मैसूरु। रविवार को भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष बीएस येड्डीयुरप्पा ने मैसूरु पिंजरापोल सोसाइटी द्वारा संचालित गौशाला का दौरा किया। उन्होंने यहां निशक्त एवं कत्लखानों के लिए ले जा रही छु़डाई गायों आदि को देखा। अपने मैसूरु जिले के जनसम्पर्क अभियान के तहत वह यहां पहुंचे थे। पिंजरापोल के सदस्यों ने उनका गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। सुबह प्रारंभ में अम्बेडकर की मूर्ति को माल्यार्पण कर दौरे की शुरुआत की और एक दलित के घर पर नाश्ता किया। गौशाला को देखने के बाद येड्डीयुरप्पा ने कहा कि ४००० से अधिक पशु धन वाली इस गौशाला को सरकार अनदेखा नहीं कर सकती है। गौशाला में ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने पूर्व मुख्यमंत्री येड्डीयुरप्पा का स्वागत किया। उन्होंने कांग्रेस सरकार की विफलताओं को गिनाते हुए कहा कि सरकार राज्य में व्याप्त अकाल में राहत सामग्री और केन्द्र से आई सहायता को बंटाने में विफल रही है।उन्होंने राज्य में अनेक अकाल क्षेत्रों को दौरा किया है और किसानों की समस्याओं को सुना है। किसान को समय पर राहत नहीं पहुंच पा रही है। मुख्यमंत्री सिद्दरामैया लोगों की समस्या समझने में विफल रहे हैं उनके द्वारा चलाई गई अनेक योजनाएं लोगों तक नहीं पहुंची हैं। उन्होंने बताया कि भाजपा के शासन के समय अनेक समाज सरोकार योजनाएं शुरु की गई थी जो लोगों तक पहुंची और वहीं योजनाएं चल रही है लेकिन आज लोगों तक पहुंच नहीं रही हैं। उन्होंने मिशन-१५० के बारे में बताया कि वह यह आंक़डा प्राप्त करने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मतदाताओं के घर घर जाएंगे और प्रधानमंत्री मोदी द्वारा चलाई जा रही जन योजनाओं के बारे में बताएंगे। गौशाला के बाद हंसुर में एक ग्राउन्ड में आयोजित रैली को भी येड्डीयुरप्पा ने संबोधित किया। इस मौके पर भाजपा के महासचिव अरविन्द लिम्बावली, एन रविकुमार, पूर्व मंत्री बी. सोमशेखर, भाजपा अध्यक्ष बीजे पुट्टेस्वामी, सांसद प्रताप सिम्हा आदि उपस्थित थे।