इंदौर/भाषा। मध्य प्रदेश के इंदौर में ड्यूटी पर तैनात पुलिस कमियों से बदसलूकी की नई घटना सामने आई है। कर्फ्यू तोड़कर शहर में घूमने का कारण पूछे जाने पर दो लोगों ने ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों पर कथित रूप से थूक दिया।पुलिस के मुताबिक गिरफ्तारी के बाद दोनों आरोपियों को एक स्थानीय अदालत के आदेश पर जेल भेज दिया गया है।

संयोगितागंज पुलिस थाने के प्रभारी राजीव त्रिपाठी ने बुधवार को बताया कि सोमवार को दो लोग बिना मास्क लगाए शहर में मोटरसाइकिल पर घूम रहे थे। छावनी चौराहे पर ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोककर पूछा कि कर्फ्यू लगा होने के बावजूद वे घर से बाहर क्यों हैं?

त्रिपाठी ने कहा, पूछताछ के दौरान दोनों युवकों ने मौके पर तैनात पुलिस कर्मियों पर थूक दिया। थाना प्रभारी ने बताया कि इस वाकये के बाद गिरफ्तार आरोपियों की पहचान जुजेर हुसैन जावदवाला (35) और मोइज अली जावदवाला (30) के रूप में हुई है।

उन्होंने बताया कि दोनों आरोपियों के खिलाफ धारा 188 (किसी सरकारी अधिकारी का आदेश नहीं मानना), धारा 269 (ऐसा लापरवाही भरा काम करना जिससे किसी जानलेवा बीमारी का संक्रमण फैलने का खतरा हो) और अन्य सम्बद्ध प्रावधानों के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। यह रिपोर्ट पुलिस के एक सहायक उप निरीक्षक (एएसआई) की ओर से दर्ज कराई गई है।

त्रिपाठी ने यह भी बताया कि शहर की एक अदालत ने दोनों की जमानत अर्जी खारिज दी, जिसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया। इंदौर कोविड-19 के प्रकोप से देश में सबसे ज्यादा प्रभावित शहरों में शामिल है। कोरोना वायरस के मामले सामने आने के बाद प्रशासन ने 25 मार्च से शहरी सीमा में कर्फ्यू लगा रखा है।