logo
कश्मीर में एम4 राइफल का पाक कनेक्शन, आतंकी के एनकाउंटर के बाद खुले कई राज़
 
कश्मीर में एम4 राइफल का पाक कनेक्शन, आतंकी के एनकाउंटर के बाद खुले कई राज़
प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay

श्रीनगर/दक्षिण भारत। सुरक्षा बलों ने शनिवार को शोपियां में जिस आतंकवादी को मार गिराया था, उसका ताल्लुक हिज्बुल मुजाहिदीन से था। इस कार्रवाई में कुल दो आतंकवादी मारे गए थे। इस संबंध में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया कि हिज्बुल आतंकवादी ने पाकिस्तान से हथियार चलाने का प्रशिक्षण लिया था और वह पिछले सप्ताह ही यहां आया था।

पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर) विजय कुमार ने कहा कि शनिवार शाम को वनगाम में यह मुठभेड़ हुई थी। उसमें हिज्बुल मुजाहिदीन और लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी मारे गए थे। उसके बाद मुठभेड़ समाप्त हो गई थी।

विजय कुमार ने बताया कि मुठभेड़ में ढेर हुआ एक आतंकवादी इनातुल्लाह शेख साल 2018 से सक्रिय था। वह शोपियां से था। वह हथियार चलाने और आतंकवाद का प्रशिक्षण लेने के लिए पाकिस्तान चला गया था। वह पिछले सप्ताह लौटा था। शेख हिज्बुल मुजाहिदीन का सदस्य था।

वहीं, दूसरा आतंकवादी आदिल मलिक अनंतनाग का निवासी था। वह लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा हुआ था। दोनों आतंकवादियों के मारे जाने के बाद उनके कब्जे से एक एके47 राइफल, एक एम4 राइफल और एक पिस्तौल बरामद की गई है।

पुलिस महानिरीक्षक ने इस बात की आशंका भी जताई है कि यह एम4 राइफल शेख द्वारा पाकिस्तान से लाई गई हो सकती है।