कानपुर (उप्र)/भाषा। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज गए या उनके संपर्क में आए लोगों को आखिरी मौका देते हुए जिला प्रशासन ने कहा है कि ऐसे लोग तुरंत अधिकारियों से संपर्क करें वरना उनके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की जाएगी।

जिलाधिकारी ब्रहमदेव तिवारी ने बताया कि, ‘जो लोग जमात के सदस्यों के संपर्क में आए हों या मरकज में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए हों, वे लोग आगे आएं और जिला प्रशासन को इसकी जानकारी दें वरना ऐसे लोग बाद में रासुका के तहत कार्रवाई के लिए तैयार रहें।

जिलाधिकारी ने कहा कि इस कड़ी कार्रवाई करने की जरूरत इसलिए पड़ रही है क्योंकि पिछले बीस घंटे में शहर में कोरोना वायरस से संक्रमित तीन नए रोगी सामने आए हैं।

उन्होंने कहा, हम कोरोना वायरस पीड़ितों की पहचान कर उनका इलाज कर रहे हैं लेकिन जो लोग छिप रहे हैं, उनके खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी। यह कार्रवाई उन लोगों पर भी की जाएगी जो इस बीमारी को बहुत ही हल्के में ले रहे हैं।

कानपुर शहर में सोमवार से पूरी तरह से लॉकडाउन लागू कर दिया गया है और किसी को भी बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी।