logo
15 अगस्त से पहले पाक के आतंकी इरादे? अमृतसर के गांव में ‘टिफिन बॉक्स बम’ मिला
 
15 अगस्त से पहले पाक के आतंकी इरादे? अमृतसर के गांव में ‘टिफिन बॉक्स बम’ मिला
प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay

चंडीगढ़/भाषा। स्वतंत्रता दिवस से पहले पुलिस ने अमृतसर में एक गांव से टिफिन बम बरामद किया है जिसमें दो किलोग्राम से ज्यादा आरडीएक्स विस्फोटक था। पुलिस को शक है कि इसे पाकिस्तान से उड़ाए गए ड्रोन के जरिये गिराया गया होगा। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिनकर गुप्ता ने कहा कि जिस बैग में टिफिन बम था, उसमें कुछ अन्य विस्फोटक भी मिले हैं।

गुप्ता ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हमने अमृतसर ग्रामीण जिले में कल (रविवार को) कुछ बरामदगी की है। हमें कुछ हथगोले और कारतूस मिले हैं… सबसे महत्वपूर्ण एक संवर्धित विस्फोटक उपकरण (आईईडी) के साथ टिफिन बॉक्स बम मिला है।’

उन्होंने कहा, ‘आईईडी को दो खाने वाले टिफिन बॉक्स में बनाया गया था। बीती शाम अमृतसर के लोपोके पुलिस थाना क्षेत्र के धालिके गांव के निकट से यह बरामदगी की गई।’ उन्होंने कहा, ‘हमारा आकलन है कि इस बम को सीमा पार से ड्रोन के जरिये यहां पहुंचाया गया है।’ डीजीपी ने कहा कि एक पूर्व सरपंच ने पुलिस को इलाके में ड्रोन की हरकत के बारे में सूचित किया था।

डीजीपी ने कहा कि पुलिस को एक परित्यक्त बैग मिला, जिसमें सात थैलियां, एक प्लास्टिक का टिफिन, पांच हथगोले, 9 एमएम पिस्तौल के 100 कारतूस थे। उन्होंने कहा कि इसमें दो किलोग्राम से ज्यादा विस्फोटक पदार्थ, एक रिमोट कंट्रोल उपकरण और एक स्विच भी मिला है। उन्होंने कहा कि बम को फोम के माध्यम से पैक किया गया था। पंजाब पुलिस राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) की मदद ले रही है।

डीजीपी ने कहा, ‘एनएसजी का दल पहुंच चुका है और उन्होंने एक प्रारंभिक रिपोर्ट दी है … उन्होंने कहा कि यह एक उन्नत किस्म का बम है और इसमें करीब 2-3 किलोग्राम आरडीएक्स विस्फोटक है। इसमें स्विच प्रणाली का इस्तेमाल किया गया है और इसे टाइमर के साथ जोड़कर भी विस्फोट किया जा सकता है। इसमें यू-आकार के दो चुंबकों के साथ एक चुंबकीय परिक्षेत्र भी है और एक छपा हुआ सर्किट बोर्ड है जो रिपोर्ट सिग्नल प्राप्त करने में मदद कर सकता है।’

उन्होंने कहा कि बैग से 9 वोल्ट की एक बैटरी और तीन डेटोनेटर भी बरामद किए गए हैं। गुप्ता के मुताबिक इस विस्फोटक का इस्तेमाल किसी भी लक्ष्य के खिलाफ किया जा सकता था।