logo
टाटा की होगी एअर इंडिया, सबसे ज्यादा कीमत लगाई
इस बोली प्रक्रिया में टाटा ग्रुप के अलावा स्पाइसजेट भी शामिल थी
 
अब एअर इंडिया की टाटा समूह में वापसी हो रही है, चूंकि इसकी शुरुआत 1932 में इसी समूह ने की थी। 

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। एअर इंडिया का नियंत्रण टाटा समूह के पास जाने का रास्ता साफ हो गया है। समूह ने बोली में सबसे ज्यादा कीमत लगाई है। 

बता दें कि इस बोली प्रक्रिया में टाटा ग्रुप के अलावा स्पाइसजेट भी शामिल थी। आखिरकार टाटा समूह ने बाजी मार ली। सरकार की ओर से एअर इंडिया में ​हिस्सेदारी को लेकर दूसरी बार बोली लगाई गई है।  

बता दें कि केंद्र सरकार ने एअर इंडिया में हिस्सेदारी बेचने के लिए वित्तीय बोली लगवाई थी। इसके तहत अब एअर इंडिया की टाटा समूह में वापसी हो रही है, चूंकि इसकी शुरुआत 1932 में इसी समूह ने की थी। 

जेआरडी टाटा ने इसके पंखों को उड़ान दी। उनका नाम देश के जानेमाने पायलटों में शामिल किया जाता था।