भारत एवं पाकिस्तान के ध्वज
भारत एवं पाकिस्तान के ध्वज

नई दिल्ली/इस्लामाबाद/दक्षिण भारत। पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के दो कर्मचारी लापता हैं। समाचार एजेंसी एएनआई ने सोमवार को सूत्रों के हवाले से यह खबर दी। इसके अनुसार, दोनों कर्मचारी सुबह करीब 8 बजे से लापता हैं।

एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार, सीआईएसएफ के दो ड्राइवर ड्यूटी पर बाहर गए थे, लेकिन अपने गंतव्य तक नहीं पहुंचे। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि पाकिस्तानी एजेंसियों के इशारे पर उनका अपहरण तो नहीं कर लिया गया!

भारत ने अपने कर्मचारियों के लापता होने का मुद्दा पाकिस्‍तान के समक्ष उठाया है। यह घटना ऐसे समय में सामने आई है जब हाल में भारत ने पाकिस्तानी उच्चायोग के दो अधिकारियों आबिद हुसैन और ताहिर हुसैन को जासूसी करते पकड़ा था। इन दोनों अधिकारियों को बाद में निकाल दिया गया था।

पाकिस्तान में भारतीय राजनयिकों पर नजर रखे जाने और परेशान करने की घटनाएं पहले भी होती रही हैं, लेकिन अब दो कर्मचारियों के लापता होने के बाद दोनों देशों में तनाव बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

हाल में भारतीय राजनयिक गौरव अहलूवालिया के वाहन का आईएसआई के एजेंट द्वारा पीछा किए जाने की घटना ने सबका ध्यान आकर्षित किया था। इसकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया में वायरल हुईं जिनमें देखा गया कि एक बाइकसवार उनकी कार का लगातार पीछा कर रहा है।

मार्च में, पाकिस्तान में भारतीय उच्चायोग ने अपने अधिकारियों और कर्मचारियों को परेशान किए जाने के विरोध में इस्लामाबाद स्थित विदेश मंत्रालय को पत्र लिखा था।

पत्र में, भारत ने मार्च में ही 13 ऐसी घटनाओं का हवाला दिया और पाकिस्तान को इन हरकतों से बाज आने के लिए कहा। भारत ने यह भी कहा कि पाकिस्तान को इन घटनाओं की तत्काल जांच करनी चाहिए और संबंधित एजेंसियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश देना चाहिए कि भविष्य में इनकी पुनरावृत्ति न हो।