सांकेतिक चित्र
सांकेतिक चित्र

उदयपुर/दक्षिण भारत। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जहां देशभर में लॉकडाउन के दौरान विभिन्न धार्मिक एवं सामाजिक आयोजन निरस्त कर दिए गए हैं, वहीं ऐसे भी लोग हैं जिन्हें इस बात की परवाह नहीं कि उनकी हरकतें देश की मेहनत पर पानी फेर सकती हैं।

राजस्थान के उदयपुर में एक मौलाना ने लोगों से भीड़ के तौर पर जुटने की अपील की। आरोप के अनुसार, इस मौलाना ने लाउड स्पीकर के ​जरिए शब-ए-बारात के लिए लोगों से जुटने की अपील की थी। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने इस मौलाना समेत नौ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

एक रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने मौलाना माजिद हुसैन के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। उसके अलावा, अब्दुल आबिद हुसैन, मोहम्मद यूसुफ, सलीम मोहम्मद हुसैन और मोहम्मद इरफान पर भी मामला दर्ज हुआ है।

घटना उदयपुर के छीपा कॉलोनी स्थित मस्जिद की है। यहां कर्फ्यू के बावजूद बुधवार को मौलाना ने उक्त अपील की। इसके बाद अंबामाता पुलिस ने मस्जिद में जुटे मौलाना समेत नौ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज ​कर लिया। इन सभी लोगों को चिकित्सा टीम ने क्वॉरेंटाइन भवन भेज दिया है।

इस संबंध में दर्ज की गई एफआईआर में कहा गया है कि मौलाना ने लाउडस्पीकर पर संबोधित करते हुए लोगों से अपील की कि वे शब-ए-बारात पर ज्यादा से ज्यादा संख्या में इकट्ठे हों और आयोजन को कामयाब बनाएं।