कोरोना वायरस
कोरोना वायरस

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। देश में कोरोना वायरस को हराकर स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में उल्लेखनीय सुधार हुआ है। स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने बताया कि मरीजों के ठीक होने की दर सुधरकर 51.08 प्रतिशत हो गई है। नौ जून तक यह 48.47 प्रतिशत थी और लगातार सुधार करते हुए उक्त आंकड़े तक पहुंच गई।

मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 के 7,419 मरीज ठीक हो चुके हैं। इस प्रकार, अब तक कोविड-19 के कुल 1,69,797 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। चूंकि मरीजों के ठीक होने की दर सुधरकर 51.08 प्रतिशत हो चुकी है, जो इस तथ्‍य की ओर संकेत करती है कि कोविड-19 के आधे से ज्‍यादा पॉजिटिव मामलों में मरीज ठीक हो चुके हैं।

मंत्रालय ने बताया कि वर्तमान में 1,53,106 सक्रिय मामले या मरीज चिकित्सीय देखरेख में हैं। संक्रमित व्यक्तियों में नोवल कोरोना वायरस का पता लगाने के लिए आईसीएमआर की परीक्षण क्षमता निरंतर बढ़ाई जा रही है।

मंत्रालय ने बताया कि सरकारी प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़ाकर 653 और निजी प्रयोगशालाओं की संख्‍या बढ़ाकर 248 (कुल 901) कर दी गई है। रिएल-टाइम आरटी पीसीआर आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं या टेस्टिंग लैब्‍स: 534 (सरकारी: 347 + निजी: 187), ट्रूनेट आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं या टेस्टिंग लैब्‍स: 296 (सरकारी: 281 + निजी: 15), सीबीएनएएटी आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं या टेस्टिंग लैब्‍स: 71 (सरकारी: 25 + निजी: 46) हो गई हैं।

मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटों में 1,15,519 सैंपल्‍स की जांच की गई। इस प्रकार अब तक जांचे गए सैंपल्‍स की कुल संख्या 57,74,133 हो गई है। देश लगातार कोरोना महामारी से युद्ध कर रहा है और मजबूती के साथ उस पर विजय प्राप्त कर रहा है।