केदारनाथ धाम
केदारनाथ धाम

गोपेश्वर/भाषा। केदारनाथ मंदिर के द्वार 29 अप्रैल को श्रद्धालुओं के लिए पुन: खोल दिए जाएंगे। बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल ने बताया कि मंदिर के द्वार सुबह छह बजकर दस मिनट पर खोले जाएंगे।

उखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर में, महाशिवरात्रि के अवसर पर आयोजित एक धार्मिक समारोह में केदारनाथ मंदिर के द्वार पुन: खोले जाने के दिन और मुहूर्त की घोषणा की गई। सर्दियों में भगवान केदार की पूजा उखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर में होती है।

पुजारी 25 अप्रैल को भैरवनाथ की पूजा करेंगे। इसके बाद 26 अप्रैल को फूलों से सजी पालकी में भगवान शिव की प्रतिमा उखीमठ से रवाना होगी। यह पालकी अपने कंधों पर रख कर श्रद्धालु फाटा और गौरीकुंड होते हुए 28 अप्रैल को केदारनाथ पहुंचेंगे।

थपलियाल ने बताया कि 29 अप्रैल को सुबह छह बज कर दस मिनट पर मेष लग्न में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच मंदिर के द्वार पुन: खोल दिए जाएंगे।