बेंगलूरु: 103 साल की महिला ने कोरोना रोधी टीका लगवाया

प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। एक सौ तीन वर्षीया ने कोरोना रोधी टीका लगवाकर महामारी से लड़ने का संदेश दिया है। उन्होंने बेंगलूरु के अपोलो हॉस्पिटल्स में कोविड वैक्सीन लगवाई। जे कामेश्वरी टीकाकरण प्राप्त करने वाली देश के सबसे बुजुर्ग व्यक्तियों में से एक हैं।

जे कामेश्वरी ने बेंगलूरु के बन्नेरघट्टा रोड स्थित अपोलो हॉस्पिटल्स में कोविड-19 वैक्सीन की अपनी पहली खुराक प्राप्त की। जानकारी के अनुसार, अब तक वह भारत की सबसे उम्रदराज महिला हैं जिन्हें कोविड वैक्सीन मिली है। वे अपने 77 साल के बेटे प्रसाद राव और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ अपोलो हॉस्पिटल पहुंची थीं।

एक बयान में कहा गया कि जे कामेश्वरी ने टीकाकरण के दौरान कर्मचारियों के साथ अच्छा व्यवहार किया, और उनके व परिवार के किसी भी सदस्य में वैक्सीन लगाने के 30 मिनट बाद भी कोई दुष्प्रभाव सामने नहीं आया।

अपोलो अस्पताल के अधिकारियों ने अन्य वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक उदाहरण स्थापित करने के लिए कामेश्वरी की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि हम जे कामेश्वरी और उनके परिवार द्वारा दिखाए गए साहस और धैर्य की सराहना करते हैं।

अधिकारी ने कहा कि अपोलो में हम अधिक से अधिक लोगों को आगे आने और कोविड-19 टीकाकरण करने की सलाह देते हैं।