logo
यूनियन बैंक की स्टार्ट-अप शाखा ने पहले ही दिन 100 करोड़ रु. से ज्यादा का ऋण मंजूर किया
बैंक ने व्यवसाय संबंधी आंकड़े साझा कर बताई प्रगति
 
कर्नाटक में यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 1.50 ट्रिलियन रुपए कारोबार और 749 शाखाओं के साथ तीसरा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने मंगलवार को व्यवसाय संबंधी आंकड़े साझा करते हुए बताया कि वह सार्वजनिक क्षेत्र का पांचवां बड़ा बैंक है। इसमें आंध्रा बैंक और कॉर्पाेरेशन बैंक का समामेलन एक अप्रैल, 2020 को प्रभावी हुआ था। इस तरह यह वर्तमान में 8,850 से अधिक शाखाओं और 1,200 से अधिक एटीएम के नेटवर्क के साथ 120 करोड़ ग्राहकों को सेवाएं दे रहा है।

मंगलवार को यूनियन बैंक की प्रथम स्टार्ट-अप विशेष शाखा का उद्घाटन कर्नाटक के वृहद् व मध्यम उद्योग मंत्री मुर्गेश आर एन ने किया। इस अवसर पर बैंक के निदेशक व आईआईएम, बेंगलूरु के प्रोफेसर जयदेव, बैंक के मुख्य महाप्रबंधक व एमएसएमई विभाग के शीर्ष पदाधिकारी सीएम मिनोचा एवं बेंगलूरु अंचल प्रमुख, क्षेत्र महाप्रबंधक आलोक कुमार और बैंक ग्राहक मौजूद थे।

बता दें कि बैंक की स्टार्ट-अप विशेष शाखा द्वारा नई पीढ़ी के उद्यमियों और कारोबारियों को व्यवसाय शुरू करने और संबधित बुनियादी जरूरतों के लिए वित्तीय सहायता दी जाएगी। शाखा उद्घाटन के पहले ही दिन स्टार्ट-अप शाखा ने 100 करोड़ रुपए से ज्यादा का ऋण मंजूर कर 20 से ज्यादा उद्यमियों के सपनों को साकार करने में भूमिका निभाई है।

बैंक ने बताया कि इसी साल 31 मार्च को कुल जमा राशि 10.32 ट्रिलियन रुपए और अग्रिम राशि 7.16 ट्रिलियन रुपए के साथ बैंक ने वित्त वर्ष 2021-22 में 5232 करोड़ रुपए का निवल लाभ भी दर्ज किया है।

बैंक ने बताया कि उसने संरचनात्मक परिवर्तन करते हुए विशिष्ट शाखा और खुदरा लोन, एमएसएमई व गोल्ड लोन प्रसंस्करण के केंद्रों की स्थापना की है। इसी तरह सिर्फ एक दिन में कार लोन का अनुमोदन सुनिश्चित करने के लिए बैंक द्वारा डीलरों के साथ अनुबंध किया गया है। बैंक द्वारा विशेष शिक्षा ऋण योजना के तहत मेडिकल एवं प्रीमियर संस्थाओं के विद्यार्थियों और विदेश की प्रतिष्ठित संस्थाओं में पढ़ाई के लिए 40 लाख रुपए तक बिना संपार्श्विक बंधक के शिक्षा ऋण की सुविधा उपलब्ध है।

एमएसएमई क्षेत्र को ऋण सुविधा उपलब्ध कराने पर खास ध्यान देने के लिए बैंक ने यूनियन एमएसएमई प्रथम शाखा खोली है। वहीं, गोल्ड लोन पोर्टफोलियो/संविभाग की संवृद्धि को बढ़ावा देने के लिए गोल्ड लोन पॉइंट शाखाओं का निर्धारण किया गया है।

कर्नाटक में यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 1.50 ट्रिलियन रुपए कारोबार और 749 शाखाओं के साथ तीसरा सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है।

<