एयरो शो: पुलिस ने ड्रोन, यूएवी और गुब्बारे उड़ाने पर लगाया प्रतिबंध

प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। बेंगलूरु शहर पुलिस कमिश्नर कमल पंत ने तीन दिवसीय एयरो इंडिया शो के मद्देनजर एक फरवरी से 8 फरवरी तक शहर में सभी उप-पारंपरिक हवाई प्लेटफॉर्म जैसे मानवरहित हवाई वाहनों (यूएवी), ड्रोन और गुब्बारों की उड़ान पर प्रतिबंध लगा दिया है।

पुलिस कमिश्नर ने एक आदेश में कहा कि सभी उप-पारंपरिक हवाई प्लेटफॉर्म जैसे मानवरहित हवाई वाहन / रोबोट प्रोसेस ऑटोमेशन, पैरा-ग्लाइडर/माइक्रो-लाइट्स / स्मॉल एयरक्रॉफ्ट, ड्रोन / क्वाड कॉप्टर, फ्लाइंग बैलून एक फरवरी से 8 फरवरी तक बेंगलूरु पुलिस कमिश्नरेट की सीमा के भीतर निषिद्ध हैं।

पुलिस के अनुसार सुरक्षा नियमों को पहले ही लागू कर दिया गया है क्योंकि बड़ी संख्या में प्रतिनिधि इस कार्यक्रम में शामिल होने वाले हैं।

देश का द्विवार्षिक हवाई शो एयरो इंडिया, 3 से 5 फरवरी के बीच येलहंका, उत्तरी बेंगलूरु में आयोजित किया जाएगा। एयरो इंडिया के लिए जारी दिशानिर्देशों के अनुसार कर्नाटक में 48 घंटे से अधिक समय तक रहने वालों के लिए एक कोविड टेस्ट अनिवार्य है।

अंतरराष्ट्रीय प्रतिनिधियों के लिए टेस्ट और क्वारंटीन दिशानिर्देश कर्नाटक सरकार के दिशानिर्देशों के अनुरूप ही होंगे। कर्नाटक सरकार ने आदेश दिया है कि सात दिनों के लिए विदेश से आने वाले सभी लोगों को क्वारंटीन किया जाए।

एयरो इंडिया वेबसाइट के अनुसार, 14 देशों के 78 विदेशी प्रदर्शकों ने इस प्रोग्राम के लिए अपने स्पॉट बुक किए हैं जबकि 2019 में इनकी संख्या 2,000 से अधिक थी। 464 भारतीय प्रदर्शकों ने इस कार्यक्रम के लिए पंजीकरण कराया है और 105 ने इस कार्यक्रम के लिए आभासी प्रदर्शक के रूप में बुकिंग की है।

इसके अलावा, आगंतुक लगभग सभी एयरो इंडिया सम्मेलनों में भी भाग ले सकते हैं, और वर्चुअल मीटिंग रूम में प्रदर्शकों के साथ बी2बी मीटिंग भी कर सकते हैं। साथ ही एयर डिस्प्ले का लाइव प्रदर्शन भी देख सकते हैं।