logo
बेंगलूरु: विधायक विश्वनाथ व बीबीएमपी के मुख्य आयुक्त ने केंद्रीय विहार अपार्टमेंट का दौरा किया
स्थानीय निवासियों को दूध, बिस्किट, मोमबत्ती, रोटी और पेयजल सुविधा के साथ मदद मुहैया कराई गई
 
रविवार देर रात लगभग 2 बजे येलहंका क्षेत्र में लगभग 130 मिमी बारिश दर्ज की गई

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। शहर में भारी बारिश के कारण केम्पेगौड़ा वार्ड स्थित येलहंका क्षेत्र में येलहंका झील ओवरफ्लो हो गई। इससे केंद्रीय विहार और आसपास के क्षेत्रों में पानी भर गया। 
स्थानीय विधायक एसआर विश्वनाथ और बीबीएमपी के मुख्य आयुक्त गौरव गुप्ता ने इलाके का दौरा किया और स्थिति की समीक्षा की।

रविवार देर रात लगभग 2 बजे येलहंका क्षेत्र में लगभग 130 मिमी बारिश दर्ज की गई और येलहंका झील में पानी भर गया। इससे दीवार टूट गई तो केंद्रीय विहार अपार्टमेंट के अंदर पानी भर गया। पानी चार फीट की ऊंचाई तक था। इस अपार्टमेंट में 604 फ्लैट हैं, जहां करीब 1,600 लोग रहते हैं।

जरूरी सामग्री मुहैया कराई
स्थानीय निवासियों को दूध, बिस्किट, मोमबत्ती, रोटी और पेयजल सुविधा के साथ मदद मुहैया कराई गई। एनडीआरएफ की 18 टीमों ने लोगों को अपार्टमेंट से बाहर निकालने के लिए नावों और ट्रैक्टरों का इस्तेमाल किया। पालिका के राजस्व विभाग ने घरों में पहुंचकर बाढ़ से हुए नुकसान का जायजा लिया।

एंबुलेंस के साथ टीम
लोगों को राहत पहुंचाने के लिए पालिका की मेडिकल टीम मौजूद थी, जिसमें आठ डॉक्टर थे। लोगों को किसी भी चिकित्सा आपात स्थिति का सामना करने के लिए डॉक्टर समेत एम्बुलेंस युक्त टीम प्रदान की गई। 

क्या बोले बीबीएमपी के मुख्य आयुक्त?
इस संबंध में जानकारी देते हुए बीबीएमपी के मुख्य आयुक्त गौरव गुप्ता ने कहा कि येलहंका क्षेत्र में 130 मिमी बारिश हुई। इसके कारण झील की दीवार टूट गई और राजाकालुवे और पास के अपार्टमेंट में पानी भर गया। पालिका की ओर से हमने निवासियों को भोजन, दूध और अन्य आवश्यक सामग्री प्रदान की है। इसके साथ ही मदद पहुंचाने के लिए जरूरी कार्रवाई की गई है।

इस दौरान स्थानीय विधायक एसआर विश्वनाथ, संयुक्त आयुक्त पूर्णिमा, मुख्य अभियंता रंगनाथ समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

देश-दुनिया के समाचार FaceBook पर पढ़ने के लिए हमारा पेज Like कीजिए, Telagram चैनल से जुड़िए