कर्नाटक में भारत बायोटेक की इकाई हर महीने बनाएगी कोवैक्सीन की चार से पांच करोड़ खुराक: सुधाकर

अधिकारियों के साथ बैठक करते मंत्री डॉ. के सुधाकर। फोटो स्रोत: ट्विटर अकाउंट।
अधिकारियों के साथ बैठक करते मंत्री डॉ. के सुधाकर। फोटो स्रोत: ट्विटर अकाउंट।

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। कर्नाटक में बन रही भारत बायोटेक की कोवैक्सीन विनिर्माण इकाई जल्द ही बड़ी संख्या में टीके की खुराक बनाने में सक्षम होगी। यह जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. के सुधाकर ने दी है।

उन्होंने बताया कि कोलार जिले में बन रही उक्त विनिर्माण इकाई की अगस्त के आखिर तक क्षमता चार से पांच करोड़ खुराक प्रति माह बनाने की होगी। मंत्री सुधाकर यहां ब्लैक फंगस पर विशेषज्ञों के साथ बैठक करने से पहले संवाददाताओं से वार्ता कर रहे थे।

इस दौरान उन्होंने बताया कि वैक्सीन को लेकर भारत बायोटेक के संस्थापक डॉ. कृष्ण इल्ला, उनकी बेटी डॉ. जाला इल्ला और टीम के साथ बातचीत हुई है। मंत्री के मुताबिक, डॉ. इल्ला ने भरोसा दिलाया है कि मालूर में विनिर्माण इकाई जून के आखिर तक हर महीने एक करोड़ खुराक का उत्पादन करेगी।

इसी प्रकार, यह जुलाई के आखिर तक दो से तीन करोड़ खुराक बनाने में सक्षम होगी। वहीं, अगस्त के आखिर तक उत्पादन बढ़ाकर लक्ष्य चार से पांच करोड़ खुराक का निर्माण करना है।

मंत्री ने बताया कि उन्हें डॉ. इल्ला और कंपनी निदेशकों की ओर से कहा गया है कि कर्नाटक को जल्द ही टीके उपलब्ध कराए जाएंगे। सुधाकर ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता राज्य के लोगों के लिए यथाशीघ्र टीके हासिल करना है। उन्होंने इसके लिए कंपनी से उत्पादन कार्यक्रम का ब्योरा मंगाया है।