भाजपा का दावा- पुड्डुचेरी में तीन और विधायक छोड़ेंगे कांग्रेस का साथ!

फोटो स्रोतः भाजपा का ट्विटर अकाउंट।
फोटो स्रोतः भाजपा का ट्विटर अकाउंट।

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। भाजपा के एक प्रमुख नेता ने दावा किया कि तीन और कांग्रेस विधायकों ने पुड्डुचेरी में विधानसभा से इस्तीफा देने की तैयारी कर ली है। साथ ही कहा कि वी नारायणसामी की सरकार विश्वास मत खो देगी।

सदन छोड़ने वाले चार कांग्रेस विधायकों में से दो विधायक ए नमस्सिवम और ई थेप्पनथन पहले ही भाजपा में शामिल हो चुके हैं। केंद्र शासित प्रदेश के भाजपा प्रभारी निर्मल कुमार सुराणा ने कहा कि कांग्रेस के दो अन्य विधायक मल्लदी कृष्ण राव और ए जॉन कुमार, जेपी नड्डा के नेतृत्व वाली पार्टी में शामिल होंगे।

भाजपा की कर्नाटक इकाई के उपाध्यक्ष सुराणा ने कहा कि दोनों ही विधायक भाजपा में शामिल होंगे। वे हमारे नेतृत्व से बात कर रहे हैं। जब उनसे पूछा गया कि क्या कांग्रेस अपना विश्वास मत खो देगी तो उन्होंने जवाब दिया निश्चित रूप से, 100 प्रतिशत।

राष्ट्रपति शासन लगने की संभावना को लेकर सुराणा ने कहा कि मुझे यही एकमात्र विकल्प नजर आ रहा है। पुड्डुचेरी के नवनियुक्त लेफ्टिनेंट-गवर्नर तमिलइसाई साउंडराजन ने गुरुवार को विधानसभा सचिवालय को 22 फरवरी को ट्रस्ट वोट के लिए सदन बुलाने का निर्देश दिया।

सुराणा ने कांग्रेस के उन तीन विधायकों का नाम नहीं बताया जो विधानसभा छोड़ने की बात कर रहे हैं। इस पर उन्होंने कहा कि मैं अब बात नहीं कर सकता। वे नारायणसामी से नाखुश हैं और वे इस्तीफा देना चाहते हैं। सौ फीसदी वे इस्तीफा देने जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री द्वारा 22 फरवरी को विधानसभा में बहुमत साबित करने को कहा गया है जिसके बाद गुरुवार रात पुडुचेरी में सत्ताधारी कांग्रेस के विधायकों की बैठक हुई। उन्होंने भविष्य की कार्रवाई के बारे में कोई निर्णय नहीं लिया और विश्वास मत से एक दिन पहले फिर से मिलने का संकल्प लिया।

33 सदस्यीय विधानसभा में 28 विधायकों की प्रभावी ताकत के साथ कांग्रेस में अध्यक्ष सहित दस सदस्य हैं जबकि इसके गठबंधन सहयोगी डीएमके के पास तीन हैं और माहे क्षेत्र से स्वतंत्र विधायक भी इनके समर्थन में है। विपक्षी दलों के पास 14 सदस्य हैं जिनमें तीन भाजपा के शामिल हैं।

बैठक के बाद नारायणसामी ने भाजपा पर कांग्रेस सरकार को गिराने का षड्यंत्र रचने का आरोप लगाया। सुराणा ने नारायणसामी के आरोप का खंडन किया और कहा कि चुनाव आयोग अगले एक हफ्ते या दस दिनों में पुड्डुचेरी के लिए चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर सकता है। मई तक पुड्डुचेरी और पड़ोसी तमिलनाडु में चुनाव होने वाले हैं।