मछुआरों की मौत मामलाः मुख्यमंत्री ने श्रीलंकाई नौसेना की निंदा की, परिजन को आर्थिक सहायता की घोषणा

प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोतः PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोतः PixaBay

चेन्नई/दक्षिण भारत। श्रीलंकाई नौसेना के पोत की टक्कर से तमिलनाडु के चार मछुआरों की मौत के मामले में मुख्यमंत्री ईके पलानीस्वामी ने श्रीलंकाई नौसेना की कड़ी निंदा करते हुए पीड़ित परिवारों को 10-10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी।

अधिकारियों के मुताबिक, सोमवार को पुडुकोट्टाई से चार मछुआरे समुद्र में गए थे और श्रीलंका में नेदुनथीवु के निकट मछली पकड़ रहे थे, जब उनकी नौका नौसेना के पोत से टकरा गई। इसके बाद भारतीय तटरक्षक बल समेत विभिन्न एजेंसियों ने तलाशी अभियान शुरू किया और उनके शव बरामद किए गए।

पलानीस्वामी ने कहा कि वे इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए कुछ समय से केंद्र सरकार के संपर्क में थे और पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर श्रीलंका में भारतीय दूतावास के माध्यम से इस घटना की उचित जांच की मांग की थी।

शोकाकुल परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए सीएम ने कहा कि प्रत्येक परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि 214 मशीनीकृत नौका मछुआरों के साथ बीती 18 जनवरी को कोट्टिपट्टिनम बंदरगाह से समुद्र में डूब गईं।

वहीं थांगचीमादम बंदरगाह से भी 4 नाव समुद्र में डूब गईं। उन सभी लोगों को भी उचित मुआवजा दिया जाएगा जिनकी नाव दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हो गई थी।