चेन्नई: कॉलेज विद्यार्थियों को निशुल्क किताबें उपलब्ध करा रहा यह बुक बैंक

प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay

अब तक एक लाख से ज्यादा विद्यार्थी लाभान्वित, 7 गोल्ड मेडलिस्ट

चेन्नई/दक्षिण भारत। जेजीवीवी ट्रस्ट के जयगोपाल गाड़ोदिया चैरिटेबल बुक बैंक ने निशुल्क किताबों के लिए कॉलेज विद्यार्थियों से आवेदन आमंत्रित किए हैं। यह बुक बैंक अन्ना नगर के यू ब्लॉक में सातवीं स्ट्रीट, नं. 6 में संचालित है। संबंधित फॉर्म और उपलब्ध पुस्तकों के बारे में वेबसाइट जेजीवीवीबुकबैंक डॉट ओआरजी से जानकारी प्राप्त की जा सकती हैं इसके अलावा, बुक बैं​क में भी फॉर्म उपलब्ध हैं।

बुक बैंक के पास कॉमर्स, अकाउंट्स, साइंस, आर्ट्स, कंप्यूटर साइंस, मैनेजमेंट स्टडीज आदि की लगभग 40 हजार किताबें हैं। बुक बैंक में किताबों की सूची प्रदर्शित की गई है। इच्छुक विद्यार्थी निवास प्रमाण पत्र एवं कॉलेज प्रशासन द्वारा प्रमाणीकरण के साथ आवेदन पत्र कार्य दिवसों में व्यक्तिगत रूप से सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे के बीच प्रस्तुत कर सकते हैं।

यदि आवेदन सभी प्रकार से सही है, तो उपलब्धता के अनुसार किताबें जारी की जाएंगी। कोरोना महामारी के मद्देनजर मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है। यह बुक बैंक पिछले 21 वर्षों से काम कर रहा है, जो जयगोपाल गाड़ोदिया के स्वप्न को साकार करने के लिए प्रयासरत है, जिन्होंने वंचितों को शिक्षा प्रदान करने के लिए शैक्षणिक संस्थानों की एक शृंखला स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

बताया गया कि इससे प्रदेश के 250 कॉलेजों में से एक लाख से अधिक विद्यार्थी अब तक लाभान्वित हो चुके हैं। बुक बैंक की किताबों से अन्ना विश्वविद्यालय और मद्रास विश्वविद्यालय स्तर पर सात गोल्ड मेडलिस्ट कामयाबी का परचम लहरा चुके हैं।

इसके लिए कोई जमा राशि, प्रोसेसिंग शुल्क नहीं लिया जाता है। सिर्फ दस्तावेजी साक्ष्य प्रस्तुत करना पर्याप्त है। परीक्षाएं पूरी होने के बाद विद्यार्थी किताबें वापस कर देते हैं जो दूसरों को उपलब्ध करा दी जाती हैं। अधिक जानकारी के लिए बुक बैंक के फोन नं. 2620 6261 पर भी संपर्क किया जा सकता है।