दुर्घटनाग्रस्त विमान
दुर्घटनाग्रस्त विमान

दुबई/भाषा। दुबई में भारतीय वाणिज्य दूतावास का कार्यालय कोझिकोड में हुए एअर इंडिया एक्सप्रेस के विमान हादसे के संबंध में जानकारी मुहैया कराने और उन लोगों की मदद के लिए शनिवार को भी खुला रहेगा, जिन्हें केरल जाने के लिए सहायता की आवश्यकता है।

दुबई से रवाना हुआ यह विमान शुक्रवार शाम केरल के कोझिकोड में हवाई अड्डे पर हवाईपट्टी से फिसल गया था और गहरी घाटी में गिर गया था। इस दुर्घटना में कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई।

वाणिज्य दूतावास ने ट्वीट किया, ‘हम हताहत हुए लोगों के परिजनों के साथ हैं और उनकी मदद के लिए हर संभव कोशिश करेंगे।’ उसने कहा कि विमान हादसे के संबंध में जानकारी साझा करने के लिए वाणिज्य दूतावास शनिवार को खुला रहेगा।

दुबई में भारत के नवनियुक्त महावाणिज्यदूत डॉ. अमन पुरी ने कहा, ‘कुछ भारतीय वीजा रद्द होने, कुछ वीजा की अवधि समाप्त होने, कुछ अपने परिजन से मिलने, कुछ नौकरी चले जाने और कुछ लोग चिकित्सकीय आपात स्थिति के कारण उस विमान में सवार थे।’

दुबई और शारजाह में भारतीय वाणिज्य दूतावास ने एअर इंडिया एक्सप्रेस विमान में उड़ान भरने वाले यात्रियों के परिजनों को सूचना मुहैया कराने के लिए पांच हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं।

पुरी ने शुक्रवार को कहा, ‘हम यात्रियों और चालक दल के कुशलक्षेम की प्रार्थना करते हैं और आगे जानकारी मिलने पर हम इसकी सूचना आपको देते रहेंगे। हमारे हेल्पलाइन नंबर +97156 5463903, +971543090572, +971543090571, +971543090575 हैं।

‘गल्फ न्यूज’ ने बताया कि शारजाह में कॉल करने के लिए हेल्पलाइन नंबर +97165970303 है। इसके अलावा एअर इंडिया एक्सप्रेस ने भी शारजाह में +97165970303 नंबर पर हेल्पलाइन सुविधा शुरू की है।

नागर विमानन मंत्रालय ने बताया कि बी737 द्वारा दुबई से संचालित उड़ान संख्या आईएक्स1344 कोझिकोड में शुक्रवार शाम सात बजकर 41 मिनट पर हवाईपट्टी से फिसल गई। विमान में 10 नवजात समेत 184 यात्री, दो पायलट और चालक दल के चार सदस्य थे।

इस उड़ान के जरिए वंदे भारत मिशन के तहत भारतीयों को स्वदेश ले जाया जा रहा था। पुलिस और विमानन कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि मृतकों में मुख्य पायलट कैप्टन दीपक साठे और उनके सह-पायलट अखिलेश कुमार भी शामिल हैं। साठे भारतीय वायु सेना में विंग कमांडर रह चुके थे।

दुर्घटनास्थल की टीवी पर दिखाई जा रही तस्वीरों में विमान दो हिस्सों में टूटा दिख रहा है और आसपास काफी मलबा एवं सामान बिखरा था।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय मंत्रियों तथा अन्य नेताओं ने एअर इंडिया एक्सप्रेस के विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने पर दुख प्रकट किया है।