प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र

मेंगलूरु/दक्षिण भारत। कर्नाटक के मेंगलूरु में हाल में भड़काऊ भित्तिचित्र सामने आने के बाद रविवार को एक और भित्तिचित्र देखे जाने का समाचार है। पुलिस के अनुसार, यह चित्र एक मकान की दीवार पर बनाया गया था।

सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने इस भित्तिचित्र को मिटाया और अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। इस मामले में दो समुदायों में विद्वेष पैदा करने और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने से संबंधित धाराएं जोड़ी गई हैं।

पुलिस आयुक्त विकास कुमार ने बताया कि यह भित्तिचित्र पहले पाए गए लेख के दौरान ही बनाया गया था। हालांकि, यह अब सामने आया है।

उल्लेखनीय है कि 26/11 हमलों की 12वीं बरसी पर मेंगलूरु में एक अपार्टमेंट परिसर की दीवार पर भड़काऊ भित्तिचित्र देख गया था। इसमें लश्कर-ए-तैयबा के समर्थन में नारा लिखा गया था।

साथ ही यह भड़काऊ संदेश भी लिखा गया था कि ‘हमें संघियों और मनुवादियों का मुकाबला करने के लिए लश्कर-ए-तैयबा और तालिबान को बुलाने के लिए मजबूर नहीं करें। लश्कर जिंदाबाद।’ पुलिस मामले की जांच कर रही है।