कर्नाटक: सरकार ने निजी अस्पतालों, प्रयोगशालाओं में सीटी-स्कैन, एक्स-रे की अधिकतम कीमतें तय कीं

फोटो स्रोत: मंत्री के सुधाकर ट्विटर अकाउंट।
फोटो स्रोत: मंत्री के सुधाकर ट्विटर अकाउंट।

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। कोरोना महामारी के मद्देनजर ​जांचों को लेकर कर्नाटक सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। इसके तहत सीटी-स्कैन और डिजिटल एक्स-रे के शुल्क की अधिकतम कीमतों तय कर दी गई हैं।

बताया गया कि सरकार ने निजी अस्पतालों एवं प्रयोगशालाओं में सीटी-स्कैन और डिजिटल एक्स-रे के शुल्क की अधिकतम सीमा क्रमश: 1,500 रुपए और 250 रुपए तय की हैं। यह जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने दी है।

मंत्री ने बताया कि कोरोना जांच में सीटी-स्कैन और एक्स-रे लगातार जरूरी होते जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसी शिकायतें मिली थीं कि कुछ अस्पताल और प्रयोगशालाएं बहुत ज्यादा कीमतें वसूल कर जनता का शोषण कर रहे हैं।

सुधाकर ने स्पष्ट किया कि जो अस्पताल और प्रयोगशालाएं तय कीमत से ज्यादा वसूलेंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार का उक्त फैसला ऐसी गतिविधियों पर रोक लगाने की दिशा में कदम है।