मतदान सांकेतिक तस्वीर
मतदान सांकेतिक तस्वीर

बेंगलूरु। कर्नाटक में लोकसभा की तीन और विधानसभा की दो सीटों पर शनिवार को मतदान शुरू हो गया है। तीन लोकसभा सीटें बल्लारी, शिवमोग्गा और मंड्या हैं। इसके अलावा दो विधानसभा सीटें जमखंडी और रामनगर हैं। यहां सुबह 7 बजे से मतदान प्रक्रिया शुरू हो गई। चुनाव आयोग ने निर्वाचन संबंधी तैयारियां पूरी कर ली थीं। इसके अलावा संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों चिह्नित कर वहां मतदाताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए खास इंतजाम किए गए हैं।

इन चुनावों में महिला मतदाताओं के लिए पिंक बूथों की स्थापना की गई है। वहां मतदान प्रक्रिया पूर्णत: महिला अधिकारियों द्वारा संचालित की जाएगी। इसके अलावा चुनाव आयोग ने दिव्यांग मतदाताओं की सुविधाओं का भी खास ध्यान रखा है। देश में पहली बार उनके लिए विशेष वाहन सेवा देने का निर्णय लिया गया है। ये वाहन दिव्यांग मतदाताओं को उनके घरों से मतदान केंद्रों और वहां से वापस घर तक आने-जाने की सुविधा देंगे।

क्यों हो रहे हैं उपचुनाव?
उपचुनाव उन सीटों पर हो रहे हैं जो किन्हीं वजहों से रिक्त हो गई थीं। इस साल राज्य में 12 मई को हुए विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के बाद बल्लारी से भाजपा सांसद बी. श्रीरामुलू ने अपनी संसदीय सीट से इस्तीफा दे दिया था। रिक्त हुई इस सीट पर श्रीरामुलू की बहन जे. शांता भाजपा के टिकट पर उपचुनाव लड़ रही हैं।

इसके अलावा शिवमोग्गा से विधानसभा चुनाव जीतने के बाद प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष और राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता बीएस येड्डीयुरप्पा ने अपनी संसदीय सीट से इस्तीफा दे दिया था। इसलिए शिवमोग्गा में उपचुनाव कराया जा रहा है। वहीं मंड्या के पूर्व सांसद सीएस पुट्टाराजू ने जनता दल (एस) के टिकट पर विधानसभा चुनाव जीता था। ऐसे में उन्होंने अपनी संसदीय सीट छोड़ दी थी।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और पूर्व विधायक सिद्दू न्यामेगौड़ा की मौत होने के कारण जमखंडी विधानसभा सीट रिक्त हो गई थी। अब यहां उपचुनाव कराया जा रहा है। मौजूदा मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने रामनगर विधानसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था। इसलिए यहां उपचुनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई। बता दें ​कि यहां से भाजपा ने चंद्रशेखर को टिकट दिया था जो उपचुनाव से दो दिन पूर्व कांग्रेस में चले गए। इस स्थिति में यहां मामला पूरी तरह एकपक्षीय हो चला है। इस सीट पर जनता दल (एस) उम्मीदवार अनीता कुमारस्वामी हैं, जिनकी जीत तय मानी जा रही है।

बल्लारी लोकसभा सीट पर जोरदार टक्कर की संभावना जताई जा रही है। यहां भाजपा उम्मीदवार जे. शांता मैदान में हैं। चुनाव में कांग्रेस और जनता दल (एस) ने वीएस उग्रप्पा को संयुक्त प्रत्याशी के तौर पर उतारा है। इसके अलावा शिवमोग्गा से प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बीएस येड्डीयुरप्पा के बेटे बीवाई राघवेंद्र चुनाव लड़ रहे हैं। यहां जनता दल (एस) ने मधु बंगारप्पा को मैदान में उतारा है।