मेट्टूर बांध से 12 जून तक पानी जारी करे सरकार : वासन

90 प्रतिशत किसान सूखा से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं और उनका उत्पादन काफी कम हो गया है।

461

तंजावुर। तमिल मनीला कांग्रेस के अध्यक्ष जीके वासन ने कहा है कि तमिलनाडु सरकार को इस वर्ष सूखे की स्थिति को देखते हुए १२ जून से मेट्टूर बांध से पानी जारी करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार को समय-समय पर पानी के संरक्षण के लिए कदम उठाने चाहिएं जिससे किसानों को पानी की कमी रहने के दौरान खेती के लिए पानी देने में मदद मिलेगी। वासन ने कहा कि इस वर्ष राज्य के डेल्टा जिले बुरी तरह सूखा से प्रभावित है। ऐसे में उन्हें यदि १२ जून तक मेट्टूर बांध से पानी दे दिया जाता है तो वह आसानी से अपना कृषि कार्य कर सकेंगे।वासन ने कावेरी प्रबंधन बोर्ड (सीएमबी) की स्थापना की मांग करने वाले किसानों द्वारा आयोजित भूख ह़डताल के दौरान पत्रकारों से बातचीत के दौरान यह बातें कहीं। उन्होंने केंद्र और राज्य सरकारों से किसानों को राहत देने के लिए युद्ध स्तर पर कदम उठाने की अपील। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि मानसून की विफलता की वजह से तंजावुर, तिरूवरूर और नागापट्टिनम जिलों में ९० प्रतिशत किसान सूखा से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं और उनका उत्पादन काफी कम हो गया है।किसानों द्वारा सीएमबी का गठन करने की मांग के साथ की जा रही पांच दिवसीय भूख ह़डताल बुधवार को समाप्त हो गया। किसानों का कहना था कि अगर केन्द्र सरकार सीएमबी का गठन करने की दिशा में समुचित कदम उठाने में विफल रहती है तो किसान राज्य के सांसदों से आगामी राष्ट्रपति चुनाव का बहिष्कार करने का अनुरोध करेंगे। किसानों का कहना था कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा केन्द्र सरकार को सीएमबी का गठन करने का निर्देश दिए जाने के बाद केन्द्र सरकार द्वारा इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाकर राज्य के किसानों की उपेक्षा कर रही है।