logo
बेंगलूरु: 667 करोड़ से विकास कार्यों को रफ्तार देगा बीबीएमपी
 
बेंगलूरु: 667 करोड़ से विकास कार्यों को रफ्तार देगा बीबीएमपी
भारतीय मुद्रा। फोटो स्रोतः PixaBay

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। बीबीएमपी ने शहर में विभिन्न विकास कार्यों के लिए बेंगलूरु में आठ क्षेत्रों को 667 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं। यह 2021-22 के बजट में दिए गए 2,000 करोड़ रुपए के अनुदान का हिस्सा है। इन 667 करोड़ रुपए में से 269 करोड़ रुपए 16 विकास परियोजनाओं के लिए निर्धारित किए गए हैं जिन्हें जोनल स्तर पर लागू किया जाएगा।

बीबीएमपी ने सभी 198 वार्डों के लिए कुल 150 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं। वार्ड की सड़कों के रखरखाव पर 29.82 रुपए खर्च किए जाएंगे। साथ ही प्रत्येक वार्ड को गड्ढों को भरने के लिए 20 लाख रुपए और बोरवेल की मरम्मत के लिए 20 लाख रुपए मिलेंगे।

हालांकि, जानकारों का कहना है कि यह राशि बहुत कम है और पिछली व्यवस्था को बहाल करने की मांग की गई है, जहां कोर क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले नए जोड़े गए वार्डों को 3 करोड़ रुपए और 2 करोड़ रुपए दिए गए थे।

किसके लिए कितनी राशि?
667 करोड़ रुपए में से 20 करोड़ रुपए झील संभाग के लिए आवंटित किए गए हैं, 61.70 करोड़ रुपए स्ट्रीट लाइट, पार्कों में प्रकाश व्यवस्था और शौचालय सुविधाओं के लिए रखे गए हैं।

इसके अलावा वृषभावती घाटी में एक तूफानी जल नाले के निर्माण और वार्षिक रखरखाव के लिए 71 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। बीबीएमपी के सड़क अवसंरचना प्रभाग को मुख्य और उप मुख्य मार्गों के रखरखाव के लिए 50 करोड़ रुपए दिए गए हैं।

इनका भी रखा गया ध्यान
साथ ही, बीबीएमपी के परियोजना प्रभाग द्वारा कार्यान्वित 12 कार्यों को करने के लिए 45.45 करोड़ रुपए का अनुदान प्रदान किया गया है जिसमें बीबीएमपी मुख्यालय का आधुनिकीकरण, बीबीएमपी क्वार्टरों की मरम्मत और रखरखाव, सड़कों, फ्लाईओवर और सबवे का रखरखाव, रेलवे ओवर ब्रिज में वर्षा जल संचयन, पशु जन्म नियंत्रण केंद्रों की मरम्मत और रखरखाव आदि शामिल है।