logo
तीसरी लहर पर काबू पाने के लिए कर्नाटक ने उठाए सभी जरूरी कदम: बोम्मई
 
तीसरी लहर पर काबू पाने के लिए कर्नाटक ने उठाए सभी जरूरी कदम: बोम्मई
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई एवं भाजपा नेता। फोटो स्रोत: फेसबुक पेज।

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शनिवार को कहा कि कोरोना की तीसरी लहर पर काबू पाने के लिए राज्य सरकार ने सभी जरूरी कदम उठाए हैं। शहर के पैलेस रोड स्थित एक निजी होटल में भाजपा द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय स्वास्थ्य स्वयंसेवक अभियान के उद्घाटन के अवसर पर संबोधित करते हुए बोम्मई ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास किसी भी कठिन चुनौती का सामना करने की दृष्टि और शक्ति है। उनके नेतृत्व में देशभक्ति की नवीनता का संचार हुआ है। कार्यकर्ता हमारी पार्टी के लिए बड़ी संपत्ति हैं।

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि इस पार्टी में हर कोई नेता है, जबकि सेवा भावना नहीं है। हमारी पार्टी का मिशन सेवा है, तो कांग्रेस के लिए स्वार्थ महत्वपूर्ण है। जब लोग संकट में होते हैं, तो भाजपा कार्यकर्ता और आरएसएस के स्वयंसेवक सहायता के लिए जाते हैं। बोम्मई ने कहा कि प्रधानमंत्री के कड़े और साहसिक फैसलों से कोरोना के प्रसार को रोका जा सका है। उनके निर्णय में एक सिद्धांत, एक नीति, एक लक्ष्य का समावेश होता है।

पाक-चीन के खिलाफ सख्त रुख
मुख्यमंत्री ने पाकिस्तान और चीन के खिलाफ सख्त रुख को कुशल निर्णय बताते हुए प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ की। उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का जिक्र करते हुए कहा कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए भाजपा कार्यकर्ता सेवाबल तैयार करने में सक्रिय हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों के स्वास्थ्य का ध्यान रखना हमारी जिम्मेदारी है। मैं राज्य के स्वास्थ्य, सेवा और समग्र विकास के लिए प्रयास करूंगा। जिले में बच्चों के लिए स्वास्थ्य शिविर पहले ही आयोजित किए जा चुके हैं। इसे पूरे राज्य में लागू किया जाएगा। कार्यकर्ताओं ने इसमें भाग लिया और इसे सफल बनाया। देशभर में पार्टी के कार्यकर्ताओं की सेवा अमूल्य है।

सेवा गतिविधियों में कर्नाटक आगे
वहीं, राष्ट्रीय महिला मोर्चा की अध्यक्ष वनथी श्रीनिवासन ने कहा कि राज्य भाजपा इकाई सेवा के मामले में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रही है। देश में करीब 4 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। ये कठिनाई के समय में मदद करेंगे।

इस अवसर पर पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष तेजस्विनी अनंतकुमार ने कहा, गैर-सरकारी संगठनों का काम अत्यधिक प्रभावी है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में पार्टी के प्रयास बहुत महत्वपूर्ण हैं।
सेवा गतिविधियों में कर्नाटक हमेशा सबसे आगे रहा है। उन्होंने कोरोना मुक्त भारत के लक्ष्य पर जोर देते हुए देसी आहार अपनाने, कोरोना को रोकने और संक्रमितों की मदद करने का आह्वान किया।

पार्टी के महासचिव एन रविकुमार ने बताया कि देश में रोजाना आने वाले कोविड के 44,000 से 45,000 मामलों में से करीब 50 फीसदी केरल से हैं। उसके बाद महाराष्ट्र का स्थान है। उन्होंने कहा कि राज्य में लगभग 3.10 करोड़ और बेंगलूरु में 81 लाख टीके लगाए जा चुके हैं। राज्य ने कोरोना टीकाकरण मामले में अच्छा प्रदर्शन किया है।

इस अवसर पर राज्य संगठन के महासचिव अरुण कुमार, राज्य डॉक्टरों के समन्वयक डॉ. कृष्ण कुमार, स्वास्थ्य स्वयंसेवकों के अभियान के समन्वयक विनय बड़े, महेश नलवाद आदि मौजूद थे।