logo
कर्नाटक 1 सितंबर से प्रतिदिन 5 लाख कोविड-19 रोधी टीकाकरण की शुरुआत करेगा: बोम्मई
 
कर्नाटक 1 सितंबर से प्रतिदिन 5 लाख कोविड-19 रोधी टीकाकरण की शुरुआत करेगा: बोम्मई
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई। फोटो स्रोत: फेसबुक पेज।

बेंगलूरु/भाषा। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज एस बोम्मई ने शुक्रवार को कहा कि राज्य केंद्र की मदद से एक सितंबर से प्रतिदिन कम से कम पांच लाख कोविड-19 रोधी टीके लगाना शुरू करेगा।

दिल्ली के दौरे के बाद बृहस्पतिवार शाम यहां लौटे बोम्मई ने संवाददाताओं से कहा, ‘हमने बुधवार को परीक्षण के आधार पर पांच लाख टीके लगाए। अब हम एक सितंबर से रोजाना पांच लाख लोगों का टीकाकरण शुरू करेंगे।’

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी का उनका दौरा मुख्य रूप से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया से मुलाकात और सितंबर से रोजाना पांच लाख लोगों का टीकाकरण शुरू करने के लिए केंद्र का समर्थन मांगने के लिए था।

बोम्मई ने कहा कि मांडविया ने अपने सहयोग का आश्वासन दिया और कहा कि केंद्र राज्य की खपत के आधार पर टीकों के भंडार की आपूर्ति करेगा।

अगले महीने गौरी-गणेश उत्सव के दौरान कोविड-19 प्रतिबंधों को लेकर पूछे गए एक सवाल पर उन्होंने कहा कि 30 अगस्त को कोविड-19 विशेषज्ञों की बैठक में ऐसे मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

पड़ोसी राज्यों के साथ जल विवाद पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के साथ अपर कृष्णा, मेकेदातु और महादयी, एट्टीनाहोल और अपर भद्रा परियोजनाओं के संबंध में विस्तृत चर्चा की।

बोम्मई ने कहा कि उन्होंने जल विवाद के संबंध में महाधिवक्ता प्रभुलिंग नवदगी, वरिष्ठ वकील श्याम दीवान और मोहन कटारकी और जल संसाधन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ चर्चा की और उन्हें उन मामलों में तेजी लाने के लिए कहा जो उच्चतम न्यायालय के समक्ष विचाराधीन हैं।

मुख्यमंत्री ने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण से भी मुलाकात की और उनसे जीएसटी मुआवजा जारी रखने का अनुरोध किया, क्योंकि यह 2022 में समाप्त हो रहा है। उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री ने कहा कि जीएसटी परिषद की बैठक में इस मुद्दे पर निर्णय लिया जा सकता है।

केंद्रीय वाणिज्य एवं कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल के साथ अपनी बैठक के बारे में बोम्मई ने कहा कि उन्होंने राज्य में एक मेगा टेक्सटाइल पार्क के लिए कर्नाटक के प्रस्ताव पर केंद्र का समर्थन मांगा है।

बोम्मई ने कहा कि गोयल ने उन्हें प्रस्ताव भेजने को कहा और परियोजना के लिए केंद्र से हर तरह की सब्सिडी देने का आश्वासन दिया। बोम्मई ने कहा कि केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि वह राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय कपड़ा निर्माताओं के साथ गठजोड़ करने में राज्य की मदद करेंगे।

मुख्यमंत्री के मुताबिक, मेगा टेक्सटाइल प्रोजेक्ट से बड़ी संख्या में नौकरियों का सृजन होगी, खासकर महिलाओं के लिए।