बेंगलूरु/दक्षिण भारत। बेंगलूरु के पुलिस आयुक्त भास्कर राव ने ट्विटर पर एक वीडियो जारी कर प्रवासी श्रमिकों से अपील की है कि वे बीआईईसी न आएं। उन्होंने बताया कि प्रवासियों को गृहराज्य भेजे जाने की व्यवस्था हो रही है।

वीडियो में पुलिस आयुक्त कहते हैं, मैं आपके लिए फिर से कुछ सूचनाएं लेकर आया हूं। कुछ दिनों पहले मैंने आप सबको बताया था कि बेंगलूरु नगर में, हमारे देश के अलग-अलग राज्यों से आए जो हमारे कार्मिक भाई हैं, वे घर जाने की उत्सुकता में हैं।

पुलिस आयुक्त ने कहा, आप लोगों के लिए यह व्यवस्था बीआईईसी में बनाए रखी थी। अब वहां से लोगों को अलग-अलग ट्रेनों के जरिए पटना, रांची, बिहार के अलग-अलग जिलों, उत्तर प्रदेश, नॉर्थ-ईस्ट और ओडिशा के कुछ भाग, जहां-जहां से अनुमति आ रही है, सभी कार्मिक भाइयों को रजिस्ट्रेशन द्वारा हम भेज रहे हैं।’

पुलिस आयुक्त ने कहा, अभी बीआईईसी में बहुत अधिक संख्या में हमारे कार्मिक भाई आ चुके हैं। आप सभी से मेरा आग्रह यह है कि अपने निकटतम पुलिस थाने से संपर्क कीजिए। आपका निकटतम पुलिस थाना जो है, आपको उस जगह भेजेगा जहां से सूचना दी जाएगी कि आप किस तारीख को, किस ट्रेन से अपने गांव के लिए रवाना होंगे।

https://platform.twitter.com/widgets.js

पुलिस आयुक्त ने प्रवासी श्रमिकों से अनुरोध करते हुए कहा, आप बीआईईसी की तरफ अभी न जाएं। वहां जितने लोग हैं, उन्हें भेजने के बाद हम आपको सूचना देंगे कि किस तरफ आना है। आपको वहां से ट्रेन के जरिए भेजने की व्यवस्था की जाएगी।’

पुलिस आयुक्त ने आग्रह किया, इसलिए आपको बीआईईसी की तरफ इतनी दूर आने की जरूरत नहीं है। आप बहुत दूर-दूर से बीआईईसी की तरफ आ रहे हैं। बीआईईसी की क्षमता कम है, लेकिन घर जाने की व्यवस्था हो रही है। उन्होंने कहा, आप सब्र रखें, जैसे-जैसे आपके राज्य से अनुमति मिलती जाएगी, आपको भेजा जाएगा। उन्होंने पुलिस स्टेशन के संपर्क में रहने की बात को दोहराते हुए कहा कि आवश्यक जानकारी पुलिस इंस्पेक्टर द्वारा दी जाएगी।