पार्टी नेताओं के खिलाफ बयानबाजी करने पर विधायक यतनाल को कारण बताओ नोटिस जारी

फोटो स्रोत: विधायक यतनाल का फेसबुक पेज।
फोटो स्रोत: विधायक यतनाल का फेसबुक पेज।

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री बसनागौड़ा पाटिल यतनाल के खिलाफ भाजपा आलाकमान ने कारण बताओ नोटिस जारी कर राज्य में पार्टी नेताओं के खिलाफ टिप्पणी करने के लिए उनसे स्पष्टीकरण मांगा है।

भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने नोटिस जारी करने का फैसला तब किया जब पार्टी के विधायक राज्य में नेतृत्व के बदलाव पर लगातार विरोधी बयान दे रहे थे और मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा की कार्यशैली के खिलाफ बोल रहे थे जिससे पार्टी को बहुत शर्मिंदगी उठानी पड़ी।

पार्टी नेताओं द्वारा चेतावनी दिए जाने के बावजूद कई मौकों पर यतनाल ने सीएम के खिलाफ खुलकर हमला बोला और नेतृत्व में बदलाव की बात कही।

गौरतलब है कि यतनाल अपने निर्वाचन क्षेत्र, विजयापुर में विकास कार्यों के लिए स्वीकृत धनराशि नहीं मिलने पर काफी समय से नाराज चल रहे हैं।

मालूम हो कि विजयपुरा के एक लिंगायत ताकतवर और हिंदुत्व के विचारों के लिए जाने जाने वाले यतनाल को एक बहुत ही महत्वाकांक्षी नेता के रूप में जाना जाता है जिन्होंने राज्य सरकार में प्रमुखता नहीं दिए जाने से खुद को हल्का महसूस किया।

वहीं गृहमंत्री अमित शाह सहित केंद्रीय नेताओं ने इस तरह की अटकलों को खारिज करते हुए यह स्पष्ट कर दिया था कि येडियुरप्पा मुख्यमंत्री के रूप में अपना कार्यकाल पूरा करेंगे।