logo
राष्ट्रीय राजनीति में रुचि नहीं, कर्नाटक राजनीति तक सीमित: सिद्दरामैया
सिद्दरामैया के कार्यालय ने कहा था कि राष्ट्रीय राजधानी की उनकी यात्रा कांग्रेस अध्यक्ष के एक फोन कॉल के बाद हुई है
 
सोनिया गांधी के साथ बैठक में कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों के नामों को भी अंतिम रूप दिए जाने की संभावना है

बेंगलूरु/भाषा। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्दरामैया ने मंगलवार को कहा कि उनकी राष्ट्रीय राजनीति में कोई दिलचस्पी नहीं है और वह केवल राज्य की राजनीति तक ही सीमित हैं।

पार्टी नेतृत्व द्वारा उन्हें राष्ट्रीय राजनीति में एक बड़ी भूमिका के साथ लाने के किसी भी प्रयास और क्या वह इसे स्वीकार करेंगे, के बारे में सवाल करने पर सिद्दरामैया ने कहा, ‘नहीं, मेरी राष्ट्रीय राजनीति में कोई दिलचस्पी नहीं है, मैं केवल कर्नाटक की राजनीति तक ही सीमित हूं।’

राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता कांग्रेस की कार्यवाहक राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने के लिए नयी दिल्ली पहुंचने पर मीडिया को संबोधित कर रहे थे।

सिद्दरामैया के कार्यालय ने कहा था कि राष्ट्रीय राजधानी की उनकी यात्रा कांग्रेस अध्यक्ष के एक फोन कॉल के बाद हुई है।

यह कोई गोपनीय बात नहीं है कि कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्दरामैया की महत्वाकांक्षा 2023 में पार्टी के अगला विधानसभा चुनाव जीतने पर दूसरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री बनने की है। पूर्व मुख्यमंत्री पहले ही कह चुके हैं कि वह बादामी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगे जिसका वह वर्तमान में प्रतिनिधित्व करते हैं।

मई 2018 के विधानसभा चुनावों से पहले, सिद्धारमैया ने कहा था कि यह ‘संभवत:’ उनका आखिरी चुनाव होगा और इससे पहले, 2013 के विधानसभा चुनावों के दौरान भी, उन्होंने कहा था कि यह उनका आखिरी चुनाव है और चुनाव बाद मुख्यमंत्री बने थे।

पार्टी सूत्रों के मुताबिक, सोनिया गांधी के साथ बैठक में कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों के नामों को भी अंतिम रूप दिए जाने की संभावना है, जिसमें बड़ा बदलाव होने की उम्मीद है। हालांकि, इस बारे में पूछे जाने पर सिद्धारमैया ने कहा, ‘नहीं... हम इस पर चर्चा नहीं करेंगे।’

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार हाल में दिल्ली में थे और उन्होंने इस संबंध में पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व के साथ व्यापक चर्चा की थी।