पेटीएम
पेटीएम

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। दिग्गज डिजिटल वित्तीय सेवा प्लेटफॉर्म पेटीएम ने बताया कि उसकी पेआउट सेवा ने यह घोषणा की है कि पेटीएम गिफ्ट वॉलेट कार्ड और 24-कैरट डिजिटल गोल्ड के कॉर्पोरेट उपहार ने 100 करोड़ का वार्षिक जीएमवी पार कर लिया है।

कंपनी ने बताया कि महामारी के मद्देनजर अधिक कंपनियां पेटीएम पेआउट द्वारा सुरक्षित, कुशल और लागत प्रभावी तरीके को अपना रही हैं। चूंकि इस साल अधिकतर कर्मचारी ‘वर्क फ्रॉम होम’ के तहत घर से काम कर रहे हैं। इस सेवा ने खरीद और वितरण के शून्य लॉजिस्टिक लागत के फायदे के साथ लोकप्रियता हासिल की है।

कंपनी ने बताया कि पेटीएम पेआउट के डिजिटल गिफ्टिंग की रेंज कंपनियों को विकल्प पर शून्यकरण की प्रक्रिया को छोड़ने, कॉम्पिटिटिव कोटशन्स पूछने, उपहारों का चयन करने और लॉजिस्टिक भुगतान करने में सक्षम बनाती है। पेटीएम पेआउट गिफ्ट वॉलेट कार्ड कर्मचारियों और विक्रेताओं के बीच उपहार देने और विकल्पों की सीमा में आसानी के लिए लोकप्रिय है।

कंपनी ने बताया कि पेटीएम हर वित्तीय वर्ष में 5,000 रुपए तक का कर्मचारियों को कर-बचत उपहार भत्ता देता है। इस तरह आयकर अधिनियम के अनुसार, कर्मचारी उन्हें जारी किए गए उपहार के मूल्य पर करों में 30 प्रतिशत तक बचा सकते हैं।

कंपन ने बताया कि इसने कॉर्पोरेट उपहारों के रूप में डिजिटल सोना देने वाली कंपनियों में भारी उछाल देखा है, यह दिवाली पर सबसे अधिक बिकने वाला उपहार विकल्प बन गया। पेटीएम के ऑनलाइन डैशबोर्ड का उपयोग करके गिफ्टिंग की जा सकती है।

पेटीएम के प्रवक्ता ने बताया कि हम कॉर्पोरेट, व्यवसायों, एमएसएमई को उनके कर्मचारियों, विक्रेताओं, भागीदारों के साथ उत्सव और शुभकामनाएं साझा करने का तरीका बदलने का लक्ष्य देते हैं। पेटीएम पेआउट गिफ्ट वॉलेट कार्ड्स, डिजिटल गोल्ड फेस्टिव चीयर को फैलाने के लिए एक बेहद सरल, सुविधाजनक और सहज विकल्प है।

उन्होंने इसकी खूबियां बताते हुए कह कि यह कंपनियों का समय बचाता है, उपहार खरीदने, भंडारण करने, उपहार वितरित करने और लोगों को अपनी इच्छानुसार इसे खर्च करने का विकल्प देता है। इससे ग्राहक समान पेटीएम मोबाइल एप्लिकेशन का उपयोग करके लाखों दुकानों और ऑनलाइन भागीदारों पर सीधे भुगतान कर सकते हैं।