एयरो शो के लिए राफेल और तेजस आसमान में गरजने को तैयार

फोटो स्रोतः भारतीय वायुसेना का ट्विटर अकाउंट।
फोटो स्रोतः भारतीय वायुसेना का ट्विटर अकाउंट।

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। भारतीय वायुसेना स्टेशन पर 3 से 5 फरवरी के बीच 13वां एयरो इंडिया शो 2021 होने जा रहा है जो कोरोना काल में आयोजित होने वाला पहला वैश्विक एयर शो होगा।

इस बारे में एयर ऑफिसर कमांडिंग एयर कोमोडोर शैलेन्द्र सूद ने बताया कि शो में फिलहाल केवल अमेरिका और फ्रांस ही हिस्सा ले रहे हैं।

महामारी के बाद बदली परिस्थितियों के कारण कई देश अपना पंजीकरण वापस ले रहे हैं और हम इस महीने के अंत तक अंतिम नामों की घोषणा करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अभी इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने की कोई अधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

वहीं शो में पहली बार सूर्य किरण जेट और सारंग हेलीकॉप्टर हवाई करतब का संयुक्त प्रदर्शन करेंगे। गौरतलब है कि पिछले शो के अभ्यास के दौरान सूर्य किरण एरोबैटिक टीम अपने एक पायलट को खो चुकी है।

वहीं अत्याधुनिक हेलीकॉप्टर चिनूक, मल्टी-रोल कॉम्बैट हेलीकॉप्टर अपाचे जो 2020 में भारतीय वायु सेना में शामिल किए गए थे, इस बार शो की शुरुआत करेंगे।

इसके अलावा डकोटा हेलीकॉप्टर, सुखोई और तेजस लड़ाकू विमानों सहित 41 विमान प्रदर्शन करेंगे जबकि 63 विमानों की स्थैतिक प्रदर्शनी होंगी। विदेशी विमानों का प्रदर्शन भी शो में अपेक्षित है।

अधिकारियों ने बताया कि शो के लिए कोविड-19 संबंधी दिशानिर्देशों का पालन कर रहे हैं। कोई भी आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के बिना शो में प्रवेश नहीं कर सकता है। यदि किसी में कोरोना के लक्षण दिखाई देते हैं तो क्वारंटीन सेंटर भी बनाए हैं।