एयरो इंडिया-21: आसमान में गरजेंगे भारत के वायुवीर, रक्षा मंत्री ने तैयारियों की समीक्षा की

बैठक में उपस्थित कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सीडीएस जनरल बिपिन रावत और अन्य वरिष्ठ अधिकारी।
बैठक में उपस्थित कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सीडीएस जनरल बिपिन रावत और अन्य वरिष्ठ अधिकारी।

एयरो इंडिया-21 मोबाइल ऐप भी लॉन्च

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को यहां बैठक के दौरान एयरो इंडिया-21 की तैयारियों की समीक्षा की। एयरो इंडिया का हर साल देश-विदेश के लोगों को इंतजार होता है। यह 3 से 5 फरवरी तक बिजनेस इवेंट के रूप में आयोजित किया जाएगा।

यह तीन दिवसीय कार्यक्रम अपने आप में अनूठा है। यह दुनिया की पहली हाइब्रिड प्रदर्शनी होगी। बैठक के दौरान, रक्षा मंत्री ने आयोजन के सुरक्षित संचालन और इसे विश्व ए एंड डी उद्योग के लिए समावेशी बनाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि एयरो इंडिया के हाइब्रिड मॉडल-21 को दुनिया के लिए न्यू नॉर्मल में व्यापार के आचरण का खाका होना चाहिए जब तक कि महामारी की चिंताओं का समाधान नहीं किया जाता है।

एयरो इंडिया-21 को अब भौतिक और वर्चुअल दोनों स्वरूप के साथ आयोजित किया जाएगा। इससे वे लोग भी इसमें शिरकत कर पाएंगे जो मौजूदा हालात में यहां आ नहीं सकते। रक्षा मंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोग सेमिनार में भाग ले सकते हैं, प्रदर्शकों और प्रतिनिधियों के साथ बातचीत कर सकते हैं, बी2बी बैठकें कर सकते हैं और उत्पाद विवरण और सहायक वीडियो भी देख सकते हैं।

बैठक में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा, राज्य के मुख्य सचिव पी. रवि कुमार, सीडीएस जनरल बिपिन रावत और रक्षा उत्पादन विभाग के सचिव राज कुमार, सी सदर्न कमांड में एओसी एयर मार्शल आरके माथुर, सी सदर्न कमांड में जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल सीपी मोहंती और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

रक्षा मंत्री ने एयरो इंडिया-21 मोबाइल ऐप भी लॉन्च किया, जो कि कार्यक्रम से संबंधित सभी बिंदुओं के लिए उपयोगी जानकारी मुहैया कराएगा और आयोजन स्थल पर आसानी से प्रवेश सुनिश्चित करेगा। यह ऐप ऐप्पल ऐप स्टोर/गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध होगा। इस पर कार्यक्रम से संबंधित जानकारी, पोस्ट और तस्वीरें उपलब्ध होंगी। अब तक एयरोशो के लिए 576 प्रदर्शकों और 35+ विदेशी प्रतिनिधिमंडलों ने पंजीकरण करा लिया है।