स्टालिन का दावा- विधानसभा चुनावों में द्रमुक की वापसी तय

एमके स्टालिन। फोटो स्रोतः फेसबुक पेज।
एमके स्टालिन। फोटो स्रोतः फेसबुक पेज।

मदुरई/दक्षिण भारत। द्रमुक अध्यक्ष एमके स्टालिन ने ए कोककुलम पंचायत में मक्कल ग्राम सभा में संबोधित करते हुए आगामी विधानसभा चुनावों में पार्टी की जीत का दावा करते हुए कहा कि जनता अन्नाद्रमुक को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखा देगी।

वहीं राजस्व मंत्री आरबी उधायकुमार के इस्तीफे की मांग करते हुए स्टालिन ने कहा कि मंत्री ने राज्य विधानसभा में कहा था कि अगर मदुरई में एम्स की स्थापना नहीं हुई तो वह इस्तीफा देंगे, अब घोषणा और शिलान्यास के सालों बीत जाने के बाद भी कोई काम शुरू नहीं हुआ है। क्या वे इस्तीफा देंगे?

उन्होंने आगे कहा कि हालांकि राजस्व मंत्री पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के लिए मंदिर बनाने के ज्यादा इच्छुक हैं, पर वे उनकी मौत के पीछे की सच्चाई का पता लगाने में विफल रहे।

अपने भाषण में स्टालिन ने कहा कि मक्कल ग्राम सभा में बदलाव इस बात की गवाही देता है कि जनता द्रमुक को सत्ता में भेजने के लिए तैयार है।

इसके अलावा कोविड-19 महामारी में सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी पार्टी लोकतंत्र में विश्वास करती है, इसलिए उन्होंने कभी भी सरकार गिराने का प्रयास नहीं किया।

उन्होंने दावा किया कि अगर द्रमुक सत्ता में आती है तो वह मनरेगा के तहत महिलाओं को 150 दिन का रोजगार सुनिश्चित करेगी।