बेंगलूरु: अचानक धमाकेदार आवाज से चौंके लोग, 2020 के सोनिक बूम की यादें ताजा

प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। दक्षिण बेंगलूरु में शुक्रवार दोपहर जोरदार धमाकेदार आवाज से लोग चौंक उठे। ऐसी ही आवाज पिछले साल भी सुनाई दी थी। इसके बाद सोशल मीडिया पर काफी चर्चा है और वजह को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं।

बता दें कि पिछले साल मई में भी जोरदार धमाका सुनाई दिया था, जिसके बाद लोगों में कई तरह की चर्चाएं थीं। हालांकि बाद में वायुसेना ने स्पष्ट किया कि यह उसकी परीक्षण उड़ान थी जिसमें एक सुपरसोनिक प्रोफ़ाइल शामिल थी। जब उसने बेंगलूरु हवाईअड्डे से उड़ान भरी, तो ऐसी धमाकेदार आवाज पैदा हुई।

क्या बोले अधिकारी?
धमाकेदार आवाज के बारे में डीसीपी दक्षिण ने कहा कि यह सोनिक बूम की तरह लगती है। हालांकि धरातल पर ऐसा कुछ भी दिखाई नहीं दिया (जिसे संदिग्ध माना जा सके)। अधिकारी ने बताया कि मामले की जानकारी के लिए पुलिस बल को भेजा गया है लेकिन धरातल पर कुछ भी नहीं मिला।

उन्होंने कहा, चूंकि एचएएल भी करीब है और पिछले दो दिनों से तेजस की उड़ानें हो रही हैं। ये डिलीवरी के लिए तैयार हैं और इससे पहले, वे फाइनल सॉर्टी (संक्षिप्त उड़ान) चेक करते हैं। उन्होंने माना कि यह अभी एक सोनिक बूम की तरह ही लग रहा है।

एचएएल ने यह कहा
वहीं, हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने बताया कि उसकी ओर से ऐसी कोई गतिविधि नहीं हुई जिससे ऐसा धमाका सुनाई दे। उसके प्रवक्ता के बयान के बाद कयास और तेज हो गए हैं। उन्होंने कहा कि लड़ाकू और प्रशिक्षु विमानों की नियमित उड़ानें एचएएल हवाईअड्डे से होती हैं। उन्होंने इस आवाज पर कोई टिप्पणी नहीं की।

सोशल मीडिया पर चर्चा
उल्लेखनीय है कि धमाकेदार आवाज सुनाई देने के बाद लोगों ने सोशल मीडिया पर अपने अनुभव साझा किए। उन्होंने दावा किया कि करीब 12.23 बजे यह आवाज सुनी थी। कुछ लोगों ने आशंका जताई कि यह भूकंप हो सकता है, वहीं कई ने संभावना जताई कि इसका संबंध वायुसेना के विमानों की उड़ान से हो सकता है। ये पंक्तियां लिखे जाने तक कोई स्पष्ट आधिकारिक बयान सामने नहीं आया था।