तमिलनाडु: 8 विधेयक पारित करने के साथ जयललिता के नाम पर विवि की घोषणा

तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता। फोटो स्रोत: सीएम पलानीस्वामी का ट्विटर अकाउंट।
तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता। फोटो स्रोत: सीएम पलानीस्वामी का ट्विटर अकाउंट।

चेन्नई/दक्षिण भारत। राज्य विधानसभा ने विभिन्न मुद्दों पर आठ विधेयकों को पारित किया, जिसमें ऑनलाइन गेमिंग पर प्रतिबंध, महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों के लिए कड़ी सजा और पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता के नाम पर विश्वविद्यालय की स्थापना शामिल है।

जयललिता के नाम पर विश्वविद्यालय विल्लुपुरम में संचालित होगा और आगामी शैक्षणिक वर्ष में काम करना शुरू कर देगा। यह वेल्लोर स्थित थिरुवल्लुवर विश्वविद्यालय की स्थापना करते हुए स्थापित किया जाएगा।

विधेयक जो तमिलनाडु में भारतीय दंड संहिता में संशोधन का आह्वान करता है, और महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों के लिए कड़ी सजा का प्रावधान करता है, इसके तहत दहेज से संबंधित मौत के मामलों में दोषियों को सात साल के बजाय 10 साल तक की कैद हो सकती है।

आपराधिक इरादे से महिलाओं को घूरने और बार-बार उल्लंघन करने जैसे अपराधों के लिए सजा की अवधि पांच से बढ़ाकर सात साल कर दी गई है। सदन ने राजा मुथैया मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, राजा मुथैया डेंटल कॉलेज और अस्पताल एवं रानी मेय्याम्मई कॉलेज ऑफ नर्सिंग को अन्नामलाई विश्वविद्यालय से जोड़ने के लिए विधेयक पारित किया।