सीबीएसई की दसवीं व बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं स्थगित करने की मांग

261

चेन्नई/दक्षिण भारत। तमिलनाडु के विल्लूपुरम निर्वाचन क्षेत्र से सांसद डॉ. डी. रविकुमार ने केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को पत्र लिखकर केंद्र से कक्षा 10वीं तथा 12वीं की सीबीएसई बोर्ड परीक्षा रद्द करने की मांग की है। गौरतलब है कि कक्षा 10वीं तथा 12वीं के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की बोर्ड परीक्षाएं 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच होने वाली हैं। मानव संसाधन एवं विकास मंत्री रमेश पोखरियाल को लिखे पत्र में वीसीके पार्टी के सांसद रविकुमार ने कहा है कि कोरोना वायरस के खतरे के कारण सीबीएसई कक्षा 10 तथा कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा जुलाई 2020 तक के लिए स्थगित करे। हालॉंकि, वर्तमान में राज्य सरकारों ने पहले ही परीक्षा आयोजित करने में अपनी कठिनाइयों को व्यक्त किया है तथा उच्चतम न्यायालय की तीन सदस्यीय पीठ ने भी मंत्रालय को परीक्षा रद्द करने पर विचार करने के लिए कहा है।

रविकुमार ने कहा कि देश में बड़े पैमाने पर कोरोना संक्रमण का प्रकोप फैला हुआ है तथा कई राज्यों द्वारा स्कूलों को संगरोध सुविधाओं के रूप में उपयोग किया जा रहा है। इस स्थिति में परीक्षा का आयोजन करना छात्रों तथा शिक्षकों के स्वास्थ्य के लिए अत्यंत जोखिम भरा है। इसलिए मैं आपसे निवेदन करता हूं कि आप लंबित सीबीएसई बोर्ड परीक्षा को रद्द कर दें तथा पूर्ण हो चुकी परीक्षाओं तथा आंतरिक प्रदर्शन के आधार पर परीक्षा परिणाम घोषित करें। उन्होंने यह भी कहा कि इस बारे में जल्द से जल्द निर्णय लिये जाने से छात्रों तथा अभिभावकों को मदद मिलेगी।

उच्चतम न्यायालय की तीन सदस्यीय पीठ के एक न्यायाधीश ने बुधवार को सीबीएसई से कहा कि वह अगले सप्ताह के भीतर परीक्षा की समय-सारिणी तय करे। 18 मई को केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ने कक्षा 12 परीक्षाओं की नई तारीखों की घोषणा की थी तथा कार्यक्रम को सोशल मीडिया में जारी किया था।