चेन्नई/भाषा। द्रविड़ नेता एवं तमिलनाडु विधानसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर वीपी दुरईसामी शुक्रवार को भाजपा में शामिल हो गए। उन्हें बृहस्पतिवार को द्रमुक के उपमहासचिव पद से हटा दिया गया था। दुरईसामी कमलालयम स्थित भाजपा प्रदेश मुख्यालय में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एल मुरुगन और वरिष्ठ नेता एल गणेशन की मौजूदगी में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए।

भारत के भाजपा के हाथों में सुरक्षित होने का संकेत देते हुए उन्होंने कहा, ‘यदि आप भाजपा की विचारधारा को स्वीकार करते हैं तो आप देश की रक्षा कर सकते हैं।’ द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन ने दुरईसामी को बृहस्पतिवार को पार्टी के उपमहासचिव पद से हटा दिया था। इसके कुछ ही दिन पहले दुरईसामी ने एक शिष्टाचार भेंट के तहत मुरुगन से मुलाकात की थी।

दुरईसामी ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने एक अलग राह पर चलने का फैसला किया है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘जब द्रमुक में मौजूद लोग आंदोलन से उभरी मूल विचारधारा से भटक गए हैं, फिर यदि मैं पार्टी छोड़ दूं तो इसमें क्या गलत है? मेरा रास्ता अलग है।’

उन्होंने कहा कि वह अवसरवादी नहीं, बल्कि नेता ही रहेंगे। उन्होंने कहा कि वह द्रमुक के तत्कालीन प्रमुख एवं पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि के अनुरोध पर इस पार्टी में शामिल हुए थे। दुरईसामी से पहले दिसंबर 2014 में पूर्व केंद्रीय मंत्री डी नेपोलियन द्रमुक छोड़ कर भगवा पार्टी में शामिल हुए थे।

दक्षिण भारतीय फिल्मों की एक प्रमुख अदाकारा के खिलाफ अपनी टिप्पणी को लेकर पिछले साल द्रमुक से निलंबित किए गए अभिनेता राधारवि भी कुछ समय अन्नाद्रमुक में रहने के बाद भाजपा में शामिल हो गए।