मुख्यमंत्री पलानीस्वामी कार्यक्रम को संबोधित करते हुए।
मुख्यमंत्री पलानीस्वामी कार्यक्रम को संबोधित करते हुए।

चेन्नई/दक्षिण भारत। अमेरिका की 16 कंपनियों द्वारा तमिलनाडु में 2,780 करोड़ रुपए के निवेश संबंधी समझौते पर हस्ताक्षर करने के एक दिन बाद इसी देश की 19 अन्य कंपनियों ने 2,300 करोड़ रुपए के निवेश के लिए राज्य सरकार के साथ एमओयू को हरी झंडी दिखाई।

कंपनियों ने मुख्यमंत्री ई. पलानीस्वामी की उपस्थिति में समझौते पर हस्ताक्षर किए। मुख्यमंत्री पलानीस्वामी तीन देशों के दौरे पर गए हैं। इस दौरान 16 कंपनियों ने मंगलवार को न्यूयॉर्क में निवेशकों की बैठक में समझौते पर हस्ताक्षर किए। वहीं, 19 अन्य कंपनियों ने सैन फ्रांसिस्को में एक कार्यक्रम में समझौते पर हस्ताक्षर किए।

जिन कंपनियों ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं, उनमें लिंकन इलेक्ट्रिक, वेयरेबल मिम्स, कैलडन बायोटेक, जेडएल टेक्नोलॉजीज, कपिसॉफ्ट, क्लाउड लर्न, सिएरा हेल्थअलर्ट्स, एक्ट्स ग्लोबल टेक सॉल्यूशंस, राइप आईओ, लेंटेंट एओ, अचिरेम, नेचर मिल्स, एसएआई, एसीजी ग्लोबल आदि हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन 19 समझौतों पर हस्ताक्षर से तमिलनाडु में 6,500 से अधिक रोजगार सृजित होंगे। बैठक में डिजिटल एक्सीलरेटर नामक एक नई योजना शुरू की गई। यह उन निवेशकों को सहायता प्रदान करेगी जो तमिलनाडु में निवेश करना चाहते हैं। निवेश के इच्छुक लोगों के लिए, कुल निवेश का 10 प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा। इसके लिए 50 करोड़ रुपए आवंटित कर दिए गए हैं।

मुख्यमंत्री ने राज्य में उपलब्ध बुनियादी सुविधाओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राज्य कंपनियों को निरंतर बिजली की आपूर्ति करेगा। बैठक के बाद मुख्यमंत्री, मंत्रियों और अधिकारियों ने कैलिफॉर्निया में कार्यरत तमिल लोगों से मुलाकात की।