हैदराबाद। टेनिस स्टार सानिया मिर्जा का मानना है कि देश में महिला टेनिस को और आगे ब़ढने की जरूरत है, हालांकि युवा खिला़डी जैसे करमन कौर थांडी और प्रार्थना थोम्बरे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रही हैं। उन्होंने यहां पत्रकारों से कहा, हमें इसे उम्मीद के साथ देखना चाहिए। हम ऐसा ही करने की कोशिश कर रहे हैं। मुझे लगता है कि आखिरकार हमें अब भी शायद इसे अगले स्तर तक ले जाने की जरूरत है, विशेषकर महिलाओं के खेल में। मुझे लगता है कि पुर्ङैंषों में स्थिति थो़डी ज्यादा बेहतर है। इस ३० वर्षीय स्टार ने कहा कि प्रार्थना, करमन और अंकिता भांबरी की विश्व रैंकिंग २००-२५० के बीच हैं और यह कोई उपलब्धि नहीं है। उन्होंने कहा, यह कहने के बाद, हमें अब भी लंबी छलांग लगाने की जरूरत है। उम्मीद है कि ऐसा होगा। वह यहां हैदराबाद में अपनी टेनिस अकादमी में हुए डब्ल्यूटीए फ्यूचर स्टार्स टेनिस क्लिनिक के मौके पर बोल रही थीं। उन्होंने भारतीय महिला क्रिकेट टीम की भी प्रशंसा की और कहा कि देश की कई खिला़डी अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं।