महेंद्र सिंह धोनी
महेंद्र सिंह धोनी

नई दिल्ली/भाषा। क्या महेंद्र सिंह धोनी की सात नंबर की जर्सी भी उनके संन्यास लेने के बाद रिटायर हो जाएगी? यह मांग निश्चित रूप से उठाई गई है और भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) में एक शीर्ष अधिकारी भी इससे सहमत हैं।

भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक पूर्व कप्तान की विदाई पर यह राय रखने वाले पहले खिलाड़ी हैं। उन्होंने पिछले साल न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व कप सेमीफाइनल में मिली हार के बाद ली गई अपनी और धोनी की फोटो के साथ पोस्ट किया, ‘विश्व कप में सेमीफाइनल के बाद ली गई अंतिम फोटो। इस सफर के जरिए काफी शानदार यादें रहीं। मैं उम्मीद करता हूं कि बीसीसीआई सफेद गेंद के क्रिकेट से सात नंबर की जर्सी को भी रिटायर कर देगा।’

कार्तिक ने भारतीय टीम में अपना पदार्पण धोनी से तीन महीने पहले 2004 में किया था और पूर्व भारतीय कप्तान की विशेष प्रतिभा के चलते तमिलनाडु का यह क्रिकेटर 26 टेस्ट, 94 वनडे और 32 टी20 से ज्यादा मैच नहीं खेल पाया।

कार्तिक ने लिखा, ‘जिंदगी की दूसरी पारी के लिये ‘गुड लक’, मुझे पूरा भरोसा है कि आप हमें इसमें भी काफी हैरान करते रहोगे।’ इस पर प्रतिक्रिया देते हुए बीसीसीआई की शीर्ष परिषद की सदस्य और पूर्व भारतीय महिला टीम की कप्तान शांता रंगास्वामी ने कहा कि धोनी इसका हकदार है।

उन्होंने पीटीआई से कहा, ‘मुझे खुशी है कि उन्होंने तब संन्यास लिया, जब लोग पूछ रहे हैं कि क्यों और क्यों नहीं। खिलाड़ी और कप्तान दोनों के तौर पर उनका योगदान काफी ज्यादा है। इसे देखते हुए जर्सी को भी रिटायर करना, उनके लिये बेहतरीन विदाई होगी।’

उन्होंने, ‘वह निश्चित रूप से इसकार हकदार है।’ भारतीय क्रिकेट से सिर्फ एक बार ही जर्सी को रिटायर किया गया है जब सचिन तेंदुलकर ने इस खेल को अलविदा कहा था। तेंदुलकर की 10 नंबर की जर्सी को 2017 में रिटायर कर दिया गया था।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) जर्सी रिटायर करने पर कोई आपत्ति नहीं करता और उसने इस मामले में फैसला करने का अधिकार देश के बोर्ड पर ही छोड़ा हुआ है। भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली राज ने भी कहा कि धोनी ने सात नंबर की जर्सी को अमर कर दिया है।

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘जिस व्यक्ति ने सात नंबर की जर्सी को अमर बनाया, जिनके तेज और शांत दिमाग उन्हें ‘कैप्टन कूल’ का टैग दिलाया, उस व्यक्ति ने जिसने दो विश्व कप ट्रॉफियों से करोड़ों भारतीयों के सपनों को पूरा किया, जिसने अपनी अनोखी शैली में क्रिकेट को अलविदा कहा। बधाई हो एम एस धोनी, शानदार करियर के लिए।’

कार्तिक और मिताली के अलावा धोनी के मुरीदों की फौज का मानना है कि यह सात नंबर की जर्सी उन्हीं की ही है और इसे भी रिटायर कर देना चाहिए।