लंदन। ब्रिटेन का मैनचेस्टर सोमवार रात आतंकी हमले से दहल गया। हमला उस वक्त हुआ, जब यहां के मैनचेस्टर एरिना में अमेरिकी सिंगर अरियाना ग्रांडे का कॉन्सर्ट खत्म होने के बाद हुए इस हमले में 19 लोगों की मौत हो गई और 50 से ज्यादा लोग घायल हो गए॥ ब्रिटेन की पीएम थेरेसा मे ने एक बयान में कहा कि यह आतंकी हमला है। नरेंद्र मोदी ने इस हमले की निंदा की है। जुलाई 2007 के बाद हुआ ये सबसे बड़ा हमला है, जब लंदन में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी।

यह हमला मैनचेस्टर एरिना में टिकट विंडो के पास हुआ्। ब्रिटेन में उस वक्त रात के करीब 10:35 बज रहे थे। मैनचेस्टर एरिना के पास विक्टोरिया रेलवे स्टेशन है। वहीं, पास में नेशनल फुटबॉल म्यूजियम भी है। यह काफी बिजी इलाका है।मैनचेस्टर एरिना यूरोप का सबसे बड़ा इनडोर स्टेडियम है। यह 1995 में खुला था। यहां कई बड़े कॉन्सर्ट और स्पोर्ट्स गेम्स का आयोजन होता रहता है। कॉमनवेल्थ गेम्स भी यहां हो चुके हैं। आतंकवादियों ने मैनचेस्टर एरिना में अमेरिकन पॉप सिंगर अरियाना ग्रांडे के कॉन्सर्ट को निशाना बनाया। प्रोग्राम में उस वक्त करीब 10,000 लोग मौजूद थे। इस एरिना की कैपिसिटी 21,000 है। इस कॉन्सर्ट में ज्यादातर युवा थे। मारे गए लोगों के बारे में पुलिस ने ज्यादा जानकारी नहीं दी है। सिंगर ग्रांडे के प्रवक्ता ने बताया कि वो इस हमले में सुरक्षित हैं। हालांकि,इस हमले की जिम्मेदारी अभी तक किसी भी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है। इस हमले के बाद पीएम थेरेसा ने अपना इलेक्शन कैम्पेन रोक दी है।
ब्रिटिश मीडिया के मुताबिक, दो धमाके होने की खबर है। हालांकि, अभी तक पुलिस ने इस बात की पुष्टि नहीं की है। पुलिस इसे आतंकी हमला मानकर चल रही है। पूरे इलाके को बंद कर दिया गया है। विक्टोरिया रेलवे स्टेशन पर रेल की आवाजाही को भी बंद कर दिया है। कॉन्सर्ट में मौजूद लोगों का कहना है कि उन्होंने दो तेज धमाकों की आवाज सुनी। एक शख्स ने बताया, बहुत तेज ब्लास्ट हुआ और हर तरफ चीख-पुकार मच गई हम सब वहां से बाहर की ओर दौड़े। कॉन्सर्ट में मौजूद इसाबेल हॉजंस ने ’स्काई न्यूज’ को बताया कि हर कोई डरा हुआ चीखता-चिल्लाता इधर-उधर भाग रहा था। ब्लास्ट के बाद पूरा गलियारा धुएं से भर गया।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मैनचेस्टर ब्लास्ट की निंदा की है। उन्होंने ट्वीट कर हादसे में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की है। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने कहा कि यह एक आतंकी हमला है।