चुनाव जीतते ही बदले इमरान के सुर, बोले- ‘भारत से बनाऊंगा बेहतर रिश्ते’

0
606
Imran Khan
Imran Khan

इमरान ने भारत के साथ अच्छे रिश्तों और कारोबार के जरिए गरीबी कम करने के बारे में कहा कि हमें एक दूसरे से कारोबारा बढ़ाना चाहिए। उन्होंने इस क्षेत्र की खुशहाली के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच अच्छे रिश्तों को जरूरी बताया।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के संसदीय चुनावों में सबसे ज्यादा सीटें जीतने और कई पर बढ़त बनाने के बाद तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के प्रमुख इमरान खान के सुर बदले नजर आते हैं। उन्होंने चुनाव प्रचार और उससे पहले कई बार भारत-विरोधी रुख अपनाया, लेकिन अब उन्होंने कहा है कि वे भारत से बेहतर रिश्ते बनाएंगे। उन्होंने इस क्षेत्र की खुशहाली के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच अच्छे रिश्तों को जरूरी बताया। उन्होंने मोहम्मद अली जिन्ना का जिक्र करते हुए कहा कि उनके सपनों का पाकिस्तान बनाएंगे।

इमरान ने भारत के साथ अच्छे रिश्तों और कारोबार के जरिए गरीबी कम करने के बारे में कहा कि हमें एक दूसरे से कारोबारा बढ़ाना चाहिए। हालांकि जनता को संबोधित करते हुए वे पाकिस्तान के परंपरागत रुख पर कायम रहना नहीं भूले। उन्होंने कश्मीर का जिक्र किया और कहा कि यह दोनों देशों के बीच सबसे बड़ा मुद्दा है। उन्होंने इसके लिए दोनों देशों के बीच बातचीत को जरूरी बताया।

उन्होंने बलोचिस्तान में फैली अशांति पर कहा कि अब आरोप-प्रत्यारोप को छोड़कर आगे बढ़ना होगा। इमरान ने भारत के साथ दोस्ती की पहल पर कहा, अगर भारत एक कदम आगे बढ़ता है तो हम दो कदम बढ़ने के लिए तैयार हैं। उन्होंने भारतीय मीडिया पर अपनी नाराजगी जाहिर की और कहा कि वह उन्हें बॉलीवुड फिल्मों के खलनायक के तौर पर पेश कर रहा है। क्रिकेट से राजनीति में आने पर उन्होंने कहा कि यह मुल्क (पाकिस्तान) ऊपर जाते हुए नीचे आने लगा था। उन्होंने बलोचिस्तान में आतंकी हमलों में मारे गए लोगों का भी जिक्र किया और जनता को धन्यवाद कहा।

ये भी पढ़िए:
– प्रशांत किशोर के सर्वे में भी छाए मोदी, लोगों ने प्रधानमंत्री पद के लिए माना सबसे भरोसेमंद चेहरा!
– पति ने यूट्यूब वीडियो देखकर कराया प्रसव, महिला की मौत
– पाकिस्तान में कोई भी बने प्रधानमंत्री, भारत के लिए नहीं बदलेंगी ये 3 बातें