इस्लामाबाद। पाकिस्तान के नवनियुक्त प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी के मंत्रिमंडल ने शुक्रवार को शपथ ली और मीडिया रिपोर्टों में कहा जा रहा है कि ख्वाजा आसिफ वर्ष २०१३ के बाद से देश के पूर्ण कालिक विदेश मंत्री बनने वाले पहले व्यक्ति होंगे। राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने यहां राष्ट्रपति भवन में मंत्रिमंडल के नए सदस्यों को शपथ दिलाई। नए मंत्रिमं़डल में ब़डी संख्या में पुराने चेहरों को स्थान दिया गया है लेकिन कुछ नए नेताओं को मंत्री और राज्य मंत्री के रूप में शामिल किया गया है।हालांकि मंत्रिमंडल के आकार को ले कर कुछ संशय है क्योंकि सरकारी पीटीवी के अनुसार इसमें २८ मंत्रियों और १८ राज्य मंत्रियों को शामिल किया गया है। वहीं जियो टीवी के अनुसार २८ मंत्रियों और १९ राज्य मंत्रियों ने शपथ ली है। अभी इनके प्रभार के संबंध में कोई औपचारिक ऐलान नहीं हुआ है।मीडिया की रिपोर्टों के अनुसार नवाज की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग के वर्ष २०१३ में सत्ता में आने के बाद से ख्वाजा आसिफ को देश का पहला पूर्ण कालिक विदेश मंत्री नियुक्त किया गया है। इससे पहले उनके पास रक्षा मंत्रालय और जल एवं ऊर्जा मंत्रालय था।एहसान इकबाल को गृह मंत्री और पूर्व व्यापार मंत्री खुर्रम दस्तिगीर खान को रक्षा प्रभार सौंपा गया है। रिपोर्ट के अनुसार पूर्व गृह मंत्री निसार अली खान को नए मंत्रिमंडल में स्थान नहीं दिया गया है क्योंकि पार्टी नेतृत्व के साथ मतभेदों के कारण उन्होंने मंत्रिमंडल में शामिल होने से इनकार कर दिया था।इसहाक डार के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज करने के उच्चतम न्यायालय के आदेशों के बावजूद उनके पास वित्त मंत्रालय बना हुआ है।शपथ लेने वाले नए चेहरे हैं दानियाल अजीज, तलाल चौधरी, अरशद लेगारी और जुनैद अनवर चौधरी।