लंदन। ब्रिटेन की राजधानी लंदन के मध्य इलाके में छुरे लिए और नकली आत्मघाती जैकेट पहने तीन हमलावरों ने एक बाजार में हमला किया जिससे कम से कम सात व्यक्तियों की मौत हो गई और ४८ लोग घायल हो गए। यह हमला आठ जून को होने वाले आम चुनाव से ठीक पहले हुआ है। हमलावरों ने शनिवार रात स्थानीय समयानुसार करीब १० बजे एक वैन लंदन ब्रिज पर राहगीरों के बीच घुसा दी और फिर निकट की एक मार्केट में छुरे से लोगों पर हमला किया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार तीन व्यक्ति वैन से ब़डे छुरों के साथ निकले और पास के बरो मार्केट स्थित बार एवं रेस्त्रां में लोगों पर हमला किया। हमलावर चिल्ला रहे थे ‘यह अल्लाह के लिए है’’। मेट्रोपालिटन पुलिस ने कहा कि हमले में सात व्यक्ति मारे गए और कम से कम ४८ लोगों को अस्पताल ले जाया गया है। पुलिस के अनुसार आतंकी हमला आठ मिनट तक चला। पुलिस ने तीनों हमलावरों को मार गिराया गया जिन्होंने ऐसी जैकेट पहनी थीं जो आत्मघाती जैकेट की तरह दिख रही थीं हालांकि बाद में जैकेट नकली निकलीं। मेट्रोपालिटन पुलिस सहायक आयुक्त मार्क राउली ने कहा, सशस्त्र अधिकारियों ने त्वरित कार्रवाई की और तीनों संदिग्धों से मुकाबला किया और उन्हें बरो मार्केट में मार गिराया। पुलिस ने आठ मिनट के भीतर संदिग्धों को मार गिराया। उन्होंने कहा, संदिग्धों ने ऐसी जैकेट पहन रखी थी जो आत्मघाती जैकेट की तरह दिख रही थी लेकिन बाद में ये नकली निकली। उन्होंने कहा, हम इसे एक आतंकवादी घटना के तौर पर ले रहे हैं और मेट्रोपालिटन आतंकवाद निरोधक कमान के नेतृत्व में पूरी जांच शुरू की जा चुकी है। प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने आतंकवादी घटना के बाद घोषणा की है कि आठ जून को होने वाले आम चुनाव तय कार्यक्रम के अनुसार ही होंगे उन्होंने देश में हुए तीन आतंकवादी हमले के लिए चरमपंथी इस्लामियों की खराब विचारधारा को दोषी ठहराया।लंदन स्थित भारतीय उच्चायोग ने हमले में फंसे किसी भी भारतीय की मदद के लिए जन प्रतिक्रिया इकाई का गठन किया है। उच्चायोग ने एक बयान में कहा, लंदन ब्रिज और बरो मार्केट की घटना में प्रभावित या घायल व्यक्ति जन प्रतिक्रिया इकाई से संपर्क कर सकता है। हम हर संभव मदद प्रदान करने का प्रयास करेंगे। द्बह्ख्रर्‍ द्मष्ठ य्भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लंदन हमले की निंदा करते हुए इसे स्तब्धकारी करार दिया। मोदी ने ट्वीट किया, लंदन में हमले चौंकाने और परेशान करने वाले हैं। हम उनकी निंदा करते हैं। इस हमले में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति हमारी संवेदनांए हैं और घायलों के लिए प्रार्थनाएं हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ब्रिटेन को अमेरिकी मदद की पेशकश की। ट्रंप ने ट्वीट किया, अमेरिका जो भी मदद कर सकता है वह करेगा।पुलिस ने आठ मिनट के भीतर तीनों हमलावरों को मार गिराया गया जिन्होंने ऐसी जैकेट पहनी थीं जो आत्मघाती जैकेट की तरह दिख रही थीं हालांकि बाद में जैकेट नकली निकलीं।