इराक: अस्पताल के कोरोना वार्ड में आग लगने से 64 लोगों की मौत

प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। फोटो स्रोत: PixaBay

बगदाद/एपी। इराक के दक्षिण में स्थित दी कार प्रांत के एक अस्पताल में मंगलवार को आग लगने की घटना में मृतकों की संख्या बढ़कर 64 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

स्वास्थ्य विभाग के दो अधिकारियों ने बताया कि नासिरया शहर के अल-हुसैन टीचिंग हॉस्पिटल के कोरोना वायरस वार्ड में आग से 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए।

मरीजों के नाराज रिश्तेदार मंगलवार सुबह भी अपनों की सुराग तलाशते रहे। वार्ड में जले हुए कंबलों, मलबों और अवशेषों से पीड़ितों को तलाशा जा रहा है। वार्ड से एक महिला का पूरी से झुलसा हुआ अवशेष मिला है। रोते-बलिखते कई लोगों ने दी कार की प्रांतीय सरकार और बगदाद में संघीय सरकार दोनों पर कुप्रबंधन और लापरवाही का आरोप लगाया।

घटनास्थल पर मौजूद हेदर अल-असकरी ने कहा, ‘पूरे राज्य की प्रणाली ध्वस्त हो गई है और इसकी कीमत कौन अदा करता है? यहां अंदर मौजूद हम जैसे लोग।’

इससे पहले अधिकारियों ने कहा था कि बिजली के शार्ट सर्किट के कारण आग लगी लेकिन इस बारे में उन्होंने ब्योरा नहीं दिया। एक अन्य अधिकारी ने बताया कि ऑक्सीजन सिलेंडर में विस्फोट से आग लगी। अस्पताल के इस वार्ड को तीन महीने पहले खोला गया था और इसमें 70 बिस्तरों की व्यवस्था थी।

आग की घटना के मद्देनजर प्रधानमंत्री मुस्तफा अल कदीमी ने आपात बैठक की अध्यक्षता की और दी कार प्रांत में स्वास्थ्य निदेशक के साथ अस्पताल के निदेशक और शहर के नागरिक रक्षा निदेशक के निलंबन और गिरफ्तारी का आदेश दिया। यह अस्पताल इसी प्रांत में स्थित है। सरकार ने घटना की जांच का भी आदेश दिया है।

इस साल इराक के अस्पताल में आग से कोरोना वायरस के मरीजों की मौत की यह दूसरी घटना है। अप्रैल में बगदाद के इब्न अल खतीब अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक फटने के बाद फैली आग से कम से कम 82 लोगों की मौत हो गई थी।