प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र

वॉशिंगटन/भाषा। चीनी-अमेरिकी व्यक्ति को सेना की संवदेनशील तकनीक चीन को देने के आरोप में 38 महीने कैद की सजा सुनाई गई। न्याय विभाग ने इसकी जानकारी दी।

न्याय विभाग ने बताया कि वाई सुन (49) टक्सन में बतौर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर पिछले 10 साल से ‘रेथियॉन मिसाइल एंड डिफेंस’ के साथ काम कर रहा था। इस मामले में उसने पहले ही अपना दोष स्वीकार कर लिया था।

‘रेथियॉन मिसाइल एंड डिफेंस’ अमेरिकी सेना के इस्तेमाल के लिए मिसाइल प्रणाली को विकसित करती है और उसका निर्माण करती है।

संघीय अभियोजकों के अनुसार, सुन ने दिसम्बर 2018 से दिसम्बर 2019 के बीच चीन की निजी यात्रा की और इस दौरान उन्होंने यह संवेदनशील जानकारी वहां पहुंचाई।

सहायक अटॉर्नी जनरल जॉन सी. डेमर्स ने कहा, ‘सुन एक कुशल इंजीनियर है और भरोसे के साथ उसे संवेदनशील मिसाइल तकनीक से जुड़ी जानकारी सौंपी गई थी और उसे अच्छे से पता था कि वह उसे कानूनी तौर पर दुश्मन को नहीं सौंप सकता है।’ उन्होंने कहा, ‘लेकिन फिर भी उसने ये जानकारी चीन को दी।’