कोरोना ने दुनिया में मचाया हाहाकार, इस ​देश में एक भी मामला नहीं!

प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay
प्रतीकात्मक चित्र। स्रोत: PixaBay

सियोल/दक्षिण भारत। इस समय जब दुनिया के अनेक देश कोरोना महामारी से त्रस्त हैं, वहीं एक देश ऐसा भी है जिसका दावा है कि उसके यहां कोरोना संक्रमण का कोई मामला नहीं है। जी हां, इस पर सबको हैरानी हो सकती है, लेकिन उस देश ने यह दावा विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के सामने किया है।

एक रिपोर्ट के अनुसार, उत्तर कोरिया ने डब्ल्यूएचओ को बताया कि उसके यहां कोरोना संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है। दावे के मुताबिक, उसने अप्रैल में ही 25,986 लोगों की कोरोना जांच कराई, जो सभी नेगेटिव आई हैं।

डब्ल्यूएचओ की साप्ताहिक निगरानी रिपोर्ट में कहा गया है कि उत्तर कोरिया की जांच रिपोर्ट में उन 751 लोगों को भी शामिल किया गया है जिनके 23 से 29 अप्रैल के बीच टेस्ट किए गए थे। हालांकि उनमें से 139 लोग ‘इन्फ्लूएंजा’ (एक तरह का बुखार) जैसी बीमारियों या गंभीर श्वसन संक्रमण से ग्रस्त पाए गए।

उत्तर कोरिया के इस दावे से विशेषज्ञ भी हैरान हैं। चूंकि इस देश में चिकित्सा सुविधाएं अच्छी स्थिति में नहीं हैं। इसके अलावा वह चीन के साथ सीमा साझा करता है। ऐसे में इस बात की काफी संभावना है कि उत्तर कोरिया में कोरोना के मामले हो सकते हैं, लेकिन तानाशाह किम जोंग उन के निर्देश पर असल आंकड़े छिपाए जा रहे हैं।

उत्तर कोरिया संक्रमण से निपटने के प्रयासों को राष्ट्रीय अस्तित्व का मामला बताता रहा है। उसने सीमा-पार यातायात और व्यापार पर पहले ही कड़ी पाबंदी लगा रखी है। इससे पहले, एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि जिन लोगों में कोरोना के लक्षण दिखाई देंगे, उन्हें किम जोंग के निर्देशानुसार मौत के घाट भी उतारा जा सकता है। ऐसे में लोग अपनी सेहत के बारे में जानकारी साझा करने से डर रहे हैं।