लंदन/भाषा। कोरोना वायरस के लक्षणों से निजात न मिलने की वजह से अस्पताल में भर्ती हुए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की स्थिति बिगड़ने के बाद उन्हें सघन निगरानी कक्ष (आईसीयू) में रखा गया है। 10 डाउनिंग स्ट्रीट ने यह जानकारी दी।

लंदन के सेंट थॉमस अस्पताल में सोमवार को आईसीयू में भर्ती कराए जाने के बाद 55 वर्षीय जॉनसन ने ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक राब को फिलहाल उनकी जगह लेने को कहा है। डाउनिंग स्ट्रीट ने आईसीयू में जॉनसन को भेजे जाने को एहितयातन उठाया कदम बताया है क्योंकि स्वस्थ होने के लिए उन्हें वेंटिलेटर पर रखे जाने की जरूरत पड़ सकती है।

डाउनिंग स्ट्रीट के एक प्रवक्ता ने कहा, आज दोपहर (सोमवार को) प्रधानमंत्री की हालत बिगड़ गई और उनकी चिकित्सा टीम की सलाह पर उन्हें अस्पताल में आईसीयू में रखा गया है। प्रवक्ता ने कहा, प्रधानमंत्री ने विदेश मंत्री डोमिनिक राब को, जहां भी जरूरी हो, वहां उनके स्थान पर काम करने को कहा है।

अस्थायी प्रभार संभालने के बाद राब ने कहा कि सरकार का काम वैश्विक महामारी को हराने की जॉनसन की योजनाओं को आगे ले जाने पर केंद्रित होगा।

मंत्री ने कहा, सरकार का कामकाज जारी रहेगा। प्रधानमंत्री सेंट थॉमस अस्पताल की उम्दा टीम की निगरानी में सुरक्षित हैं और सरकार का ध्यान कोरोना वायरस को हराने तथा देश को इस संकट से उबारने के लिए प्रधानमंत्री के निर्देशों, सभी योजनाओं को आगे बढ़ाने पर केंद्रित रहेगा।

डाउनिंग स्ट्रीट ने कहा कि जॉनसन पूरी तरह होश में हैं और उनकी बहुत अच्छी देखभाल हो रही है जिसके लिए उन्होंने नेशनल हेल्थ सर्विस (एनएचएस) के स्टाफ को धन्यवाद भी दिया है।

इससे पहले सोमवार को जॉनसन ने अस्पताल से संदेश भेजा था कि उनका मनोबल बढ़ा हुआ है और वह कोरोना वायरस के संबंध में बनाई गई ब्रिटेन की नीति को देखने के लिए मंत्रियों के साथ संपर्क में हैं। जॉनसन के आईसीयू में भर्ती होने के बाद वैश्विक नेताओं ने उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना के साथ ढेरों संदेश भेजे हैं।