पेरिस/एजेन्सी
फ्रांस सरकार ने कोरोना वायरस के मामलों में फिर से हो रही तेज बढ़ोतरी के बाद देश में चार सप्ताह का लॉकडाउन लगाया है । लॉकडाउन के पहले दिन शुक्रवार को सड़कों पर कम ही लोग नजर आए। सात महीने में दूसरी बार शुक्रवार से लागू लॉकडाउन के तहत लोगों को घरों पर रहने को कहा गया है और बाहर निकलने पर जुर्माना या सजा का प्रावधान किया गया है। व्यायाम के लिए एक घंटा बाहर निकलने या उपचार अथवा जरूरी सामानों के लिए दुकान जाने की अनुमति दी गयी है।
शुक्रवार की सुबह सड़क सुनसान नजर आ रहे थे और कुछ ही लोग घरों से बाहर निकले। रेस्तरां और कैफे को बंद कर दिया गया है। केवल सुपरमार्केट में ही लोगों की चहल पहल दिखी क्योंकि वहां लोग जरूरी सामान खरीदने के लिए पहुंचे थे। राजधानी पेरिस में भी सड़कें खाली नजर आ रही थी ।
आम तौर पर सप्ताहांत शुरू होते ही सड़कों पर गाड़ियों की आवाजाही बढ़ जाती है । कई लोग इस सप्ताहांत पर छुट्टियां मनाने के लिए अपने घर चले गए। राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने कहा है कि सोमवार से छुट्टियों से घरों से लौटने वाले लोगों के प्रति प्रशासन उदार रवैया अपनाए किंतु निकलने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे।