विनोद बजाज
विनोद बजाज

लंदन/भाषा। पंजाब में जन्मे और पिछले 40 वर्षों से ज्यादा समय से आयरलैंड में रह रहे 70 वर्षीय एक व्यक्ति ने दावा किया है कि वह 1,500 दिन में पृथ्वी की परिधि के बराबर 40,075 किलोमीटर की यात्रा पूरी कर चुके हैं और उन्होंने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए आवेदन भी दिया है। उनके मुताबिक ‘अर्थ वॉक’ यात्रा उन्होंने अपने गृह शहर लिमरिक से बाहर जाए बिना ही पूरी की है।

विनोद बजाज ने अगस्त 2016 में वजन कम करने और शरीर को सुडौल बनाने के इरादे के साथ यह यात्रा शुरू की थी। जैसे-जैसे उनका वजन कम होता गया, वैसे-वैसे चलने का उनका उत्साह बढ़ता गया। इसके लिए उन्होंने कई रास्तों को अपनाया, और जब-जब मौसम संबंधी दिक्कतें आतीं तो वह मॉल में इस यात्रा की पूर्ति कर लेते थे।

बजाज ने कहा, ‘शुरुआती तीन महीने तक हर सप्ताह सात दिन चलने से रोजाना 700 कैलोरी कम होने से मेरा वजन आठ किलोग्राम घट गया। अगले छह महीने में मेरा वजन और 12 किलोग्राम कम हुआ। मेरा वजन चलने की वजह से ही कम हुआ और मैंने खान-पान में कोई बदलाव नहीं किया था।’

सेवानिवृत्त इंजीनियर और बिजनेस कंसल्टेंट बजाज चेन्नई में पले-बढ़े। वह 1975 में प्रबंधन की पढ़ाई के लिए ग्लासगो आ गए तथा 43 वर्ष पहले आयरलैंड चले गए। फिलहाल वह अपने परिवार के साथ लिमरिक के उपनगर में रहते हैं।

उन्होंने कहा, ‘पहले साल के अंत तक मैंने 7,600 किलोमीटर की यात्रा तय कर ली। और यह जानकर मुझे आश्चर्य हुआ कि मैं भारत से आयरलैंड तक की दूरी तय कर चुका हूं। मैं लगातार चलता रहा और दो साल के अंत तक मैंने 15,200 किलोमीटर की यात्रा की और पता चला कि वास्तव में मैं चंद्रमा की परिधि (10,921 किलोमीटर) से ज्यादा चल चुका हूं। इसके बाद मैंने मंगल ग्रह की परिधि (21,344 किलोमीटर) के बराबर चलने का निर्णय लिया।’

उन्होंने कहा, ‘मार्स वॉक (मंगल ग्रह की परिधि) और अर्थ वॉक (पृथ्वी की परिधि) में 19,000 किलोमीटर का अंतर है और मैं जानता था कि यह आसान नहीं होगा। मैं इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए चलता रहा।’

उन्होंने 21 सितंबर को अर्थ वॉक पूरी कर ली। उनका आवदेन अभी गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में प्रक्रिया में है और यह मूल्यांकन चल रहा है कि क्या 1,496 दिनों और 54,633,135 कदम मिलकर धरती की परिधि के बराबर की उनकी यात्रा पूरी होती है या नहीं।